ट्रंप ने जी-7 के नेताओं के साथ अच्छे रिश्ते होने का किया दावा  

0

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जी-7 के नेताओं के साथ अच्छे रिश्ते होने का दावा किया है। उन्होंने कहा कि कनाडा में संपन्न हुए जी-7 शिखर सम्मेलन में उनके बारे में मीडिया ने सच नहीं दिखाया। ट्रंप ने शुक्रवार को अपने ट्विटर खाते पर दर्जनभर फोटोग्राफ पोस्ट किए, जिनमें वह 8-9 जून को आयोजित शिखर सम्मेलन में जी-7 के नेताओं से घिरे हुए हैं और सभी प्रसन्न मुद्रा में हैं।

जी-7 के नेताओं

ट्रंप ने लिखा, “जर्मनी की एंजेला मर्केल के साथ उनके बहुत बढ़िया संबंध हैं, लेकिन फेक न्यूज मीडिया ने बातचीत में सिर्फ खराब तस्वीरें (क्रोधित मुद्रा में) दिखाईं, जिनमें मैं उन मसलों पर बात कर रहा हूं, जिनपर कोई दूसरे अमेरिकी राष्ट्रपति ने नहीं की।”

उन्होंने कुछ तस्वीरें पोस्ट की हैं, जिनमें मेज की तरफ वह बैठे हैं, जबकि दूसरी ओर मर्केल समेत बाकी देशों के नेता। समाचार एजेंसी ‘एफे’ के अनुसार, शिखर सम्मेलन की अबतक दिखी तस्वीरों में जो तनाव के संकेत मिले, उससे इतर ट्रंप द्वारा साझा की गई तस्वीरों में सभी नेताओं के चेहरों पर मुस्कान है।

ट्रंप ने दूसरे ट्वीट में कहा, “फेक न्यूज मीडिया ने कहा कि कनाडा में हुए जी-7 शिखर सम्मेलन में मैं अन्य नेताओं के साथ नहीं था। एक बार फिर वे गलत साबित हुए।” ट्रंप ने इस संदेश के साथ सम्मेलन की वह तस्वीर पोस्ट की, जिसमें फ्रांस के राष्ट्रपति एम्मानुएल मैंक्रो, कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन टड्रो और ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे हैं।

तीसरे ट्वीट में उन्होंने यूरोपीय आयोग के अध्यक्ष जीन क्लॉड जंकर और यूपीय परिषद के अध्यक्ष डोनाल्ड टस्क के साथ अपनी तस्वीर पोस्ट की और कहा कि उनके साथ बहुत अच्छी बातचीत हुई।

जी-7 शिखर सम्मेलन संपन्न होने के एक सप्ताह बाद उन्होंने ये ट्वीट किए हैं। सम्मेलन में उन्होंने रूस को वापस समूह में लाने का विवादास्पद प्रस्ताव किया और आखिर में जी-7 के बयान पर हस्ताक्ष करने से इनकार कर दिया।

इसके बाद टड्रो के साथ उनका मनमुटाव हो गया और उन्होंने कनाडाई नेता को धूर्त व कमजोर बताया। साथ ही, उन्होंने ऑटोमोबाइल आयात पर शुल्क लगाने की चेतावनी दी।    

loading...
शेयर करें