नवरात्र के दौरान शरीर में न आने दें कमजोरी, ऐसे तय करें अपना डाइट चार्ट

नई दिल्लीः इस समय शारदीय नवरात्र चल रहे हैं. नौ दिनों के इस त्योहार में देवी के नौ अलग-अलग स्वरूपों की आराधना की जाती है. नवरात्रि के नौ दिनों तक व्रत करने वालों को कुछ खास बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है वर्ना उनके स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर आ सकता है और शरीर में कमजोरी भी आ सकती है.

हालांकि जो लोग व्रत कर रहे हैं उनके लिए भूखे रहना कठिन काम नहीं होता लेकिन कई बार उत्साह में व्रती इतना ज्यादा खाने के समय में गैप कर लेते हैं कि उनकी सेहत पर इसका असर दिखने लगता है. लिहाजा यहां हम कुछ ऐसी बातों के बारे में बता रहे हैं जो आपको व्रत के दौरान सेहत से समझौता नहीं करने का भी फायदा देंगी.

1. खाने के समय में बेहद लंबा गैप न करें और थोड़े-थोड़े अंतराल पर कुछ खाने को लेते रहें.

2. इसमें एक समय छाछ, एक समय कोई फल और किसी समय ड्राई फ्रूट्स जैसे विकल्पों को अपनाया जा सकता है.

3. दिन की शुरुआत में आप ग्रीन टी ले सकते हैं और इसके बाद एक या दो खजूर का सेवन भी किया जा सकता है.

4. अगर आप व्रत के दौरान नाश्ते को नहीं लेते हैं तो इस दौरान पूरी तरह खाली पेट न रहें और ड्राई फ्रूट का सेवन कर सकते हैं.

5. दिन के खाने में साबूदाना की टिक्की या खिचड़ी, या छाछ को ले सकते हैं.

6. पूरे दिन खाली पेट रहकर शाम को व्रत का हैवी खाना खाने को किसी भी तरह समझदारी नहीं कहा जा सकता है.

7. शाम के समय आप व्रत खोलते समय आलू ले सकते हैं और इसमें सेंधा नमक का इस्तेमाल तो आप कर ही सकते हैं.

8. कुछ लोग सलाद और सूप को भी शाम को व्रत खोलते समय ले सकते हैं, अगर उन्हें हैवी भोजन नहीं लेना हो तो ये एक अच्छा विकल्प है.

9. रात को सोते समय अगर आप एक गिलास दूध ले सकें तो ये व्रत के दौरान आपके शरीर में कमजोरी नहीं आने देगा.

10. व्रत के दौरान एक बात का खास ख्याल रखें कि शरीर में पानी की कमी न होने दें. ऐसा होने से आपकी सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है. व्रत के दौरान थोड़े-थोड़े समय में पानी अवश्य लेते रहें.

Related Articles