महंगाई से न हो परेशान, इस जिले में वितरण हो रहा समाजवादी सरसों का तेल

अयोध्या: देश मे एक तरफ महंगाई (inflation) ने लोगो की कमर तोड़ दी और सरसों का तेल (mustard oil) आसमान छू रहा है। वहीं इसी बीच 2022 में यूपी विधानसभा चुनाव होने है और इसी को लेकर सभी पार्टी तैयारियों में जुट गई। वहीं समाजवादी पार्टी (Samajwadi party) ने महंगाई के बीच लोगो को लुभाने के लिए अयोध्या में लोगो को सरसों का तेल (mustard oil) मुफ्त में वितरण किया है।

समाजवादी पार्टी के दिव्यांग नेता पंडित समरजीत ने अयोध्या में ग्रामीण महिलाओं में समाजवादी सरसों का तेल निशुल्क वितरित किया। इसके साथ मे अपना प्रचार करने के हिसाब से सरसो के तेल की बोतल पर सपा का स्टिकर लगाकर पार्टी की प्रमुख 3 घोषणाओं का भी जिक्र किया है। आधे-आधे लीटर सरसों की तेल की बोतल में लगे स्टीकर पर मुलायम सिंह यादव, पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व उनकी पत्नी डिंपल यादव की फोटो भी लगाई गई है।

तीन घोषणाएं

दिव्यांग सपा नेता पंडित समरजीत ने ग्रामीण इलाकों के भरत कुंड पिपरी जलालपुर स्थित निषाद बस्ती में पहुंचकर एक दर्जन से अधिक महिलाओं को सरसों की तेल की बोतल मुफ्त में वितरण की। सरसों की तेल की बोतल में समाजवादी पार्टी की जो तीन घोषणाएं लिखी है उसमे 20 लाख युवाओं को रोजगार, हर घर में 300 यूनिट बिजली फ्री और एक करोड़ महिलाओं को 1500 रुपये समाजवादी पेंशन देने का जिक्र किया गया है।

फिर सब बनेगी सरकार

पंडित समरजीत ने बताया कि इस बढ़ती महंगाई में गरीबों की थालिनसे भोजन गायब हो गया है। सरसों की तेल की कीमत 190 रुपये हो गई है इसलिए ग्रमीण महिलाओं की सरसों का तेल वितरण किया गया है। इसके आगे उन्होंने कहा इस महंगाई के कारण 2022 में भाजपा की बुरी हार होगी और एक बार फिर अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बनेंगे।

 

Related Articles