शनिवार को ऐसे करें शनिदेव की पूजा और चमकाएं अपनी किस्मत

0

हिंदू धर्म में वैसे तो सारे देवी-देवताओं को काफी ज्यादा मान्यता है वैसी ही पेड़ पौधों का महत्व इंसान की ज़िन्दगी में जन्म से लेकर मरण तक रहता है। कुछ पौधों का धार्मिक महत्व भी होता है। जैसे तुलसी बरगद, पीपल आदि पेड़ों का हिन्दू धर्म में महत्वपूर्ण स्थान है।

शनिवार को ऐसे करें शनिदेव की पूजा और चमकाएं अपनी किस्मत के लिए इमेज परिणाम

पीपल के पेड़ पर सभी देवताओं की कृपा मानी जाती है। लेकिन खासतौर पर पीपल के पेड़ की पूजा शनि दोष को दूर करने के लिए किया जाता है। इस खास तरीके से अगर पीपल के पेड़ की पूजा की जाए तो इससे धन की प्राप्‍त‍ि होती है। और शनि को शांत भी किया जा सकता है। आइए जानते हैं शनिवार को कैसे करें शिनीदेव की पूजा।

पीपल के पेड़ की पूजा के लिए इमेज परिणाम

अपने घर के पूजास्थल पर इसे ले जाकर रखें और धूप-बत्ती आदि से इसकी पूजा करें। अपने ईष्टदेव का ध्यान करते हुए प्राथना करें कि आपकी मनोकामना पूर्ण हो।

अगर आपके घर में पूजास्थल ना हो तो किसी साफ स्थान पर चटाई बिछाकर पद्मासन में बैठ जाएं। किसी साफ प्लेट में इस पत्ते को रखें और उसी प्रकार धूप बत्ती दिखाते हुए पूजा करें।

पूजन के बाद पीपल के पत्ते को पर्स या तिजोरी में रखें। इसके बाद हर शनिवार को पुराना पत्ता किसी मंदिर में जाकर चढ़ा आएं और पहले बताई गई विधि के अनुसार नया पत्ता लेकर आएं।

संबंधित इमेज

शनिवार की शाम को शनिदेव की विधिवत पूजा करें। इसके बाद पीपल के पेड़ के नीचे सरसों तेल का दिया जलाकर रखें। अब उसी पीपल के पेड़ से उसके कुछ पत्ते तोड़कर घर ले आएं और इनको गंगाजल से धो लें। अब पानी में हल्दी डालकर एक गाढ़ा घोल तैयार करें और दाएं हाथ की अनामिका अंगुली से इस घोल को लेकर पीपल के पत्‍ते पर ह्रीं लिखें।

loading...
शेयर करें