सीरीज-ई फंडिंग राउंड से ड्रूम ने जुटाया 200 करोड़ रुपये का फंड

नई दिल्ली | भारत अग्रणी ऑनलाइन ऑटोमोबाइल ट्रांजैक्शनल मार्केटप्लेस-ड्रूम ने अपने सीरीज-ई फंडिंग राउंड से 200 करोड़ रुपये का फंड जुटाया है। कम्पनी के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी संदीप अग्रवाल ने गुरुवार को इसकी घोषणा की। संदीप ने कहा कि सीरीज ई फंडिंग राउंड को अब बंद कर दिया गया है। संदीप के मुताबिक इस राउंड का नेतृत्व जापानी निवेशक जिगएक्सएन के संस्थापक जो हिराओ के फैमिली ऑफिस ने किया। इस राउंड को मिलाकर ऑनलाइन मार्केटप्लेस ने कुल 12.5 करोड़ डॉलर जुटाए हैं।

 यह देश में ऑनलाइन ऑटोमोबाइल मार्केटप्लेस सेग्मेंट में सबसे ज्यादा राशि है। मौजूदा फंडिंग राउंड से यह साफ होता है कि वैश्विक निवेशकों के बीच ड्रूम की अपील बढ़ रही है। यह भारत में ऑनलाइन ऑटोमोबाइल बाजार में निर्विवाद रूप से उसके लीडर होने की भी पुष्टि करता है।

ड्रूम का लक्ष्य इस फंड को ड्रूम क्रेडिट के लिए समर्पित करना है ताकि पूरे भारत में घर-घर जाकर निरीक्षण करने की सेवाओं, ओबीवी, हिस्ट्री और इको तथा सी2सी और सी2बी मार्केटप्लेस जैसी सर्टिफिकेशन सेवाओं को मजबूती दी जा सके।

ऑनलाइन ऑटोमोबाइल मार्केटप्लेस सेग्मेंट में अपने प्रभुत्व को और मजबूत करने के लिए ड्रूम बी2सी से परे अपने फाइनेंशियल ऑफरिंग, निरीक्षण और मार्केट फॉर्मेट्स की स्केलेबिलिटी पर ध्यान केंद्रित करेगा। टेक्नोलॉजी-आधारित प्लेटफार्म अपने प्रोडक्ट्स के विशाल पोर्टफोलियो के लिए मशीन लनिर्ंग और एआई क्षमताओं को और विकसित करने पर भी भारी निवेश करने जा रहा है।

सीरीज ई फंडिंग राउंड की सफलता पर संदीप अग्रवाल ने कहा, पिछले 4 साल में ड्रूम स्र खुद को ऑनलाइन ऑटोमोबाइल ट्रांजेक्शनल प्लेटफार्म में निर्विवाद नेता के रूप में स्थापित किया है। मौजूदा सीरीज ई फंडिंग हमारे लिए एक बड़ी उछाल देती है क्योंकि हमारा लक्ष्य निरीक्षण, ड्रूम क्रेडिट, सी2सी और सी2बी मार्केटप्लेस फॉर्मेट्स जैसी सेवाओं को मजबूती देना और विविधता लाने पर है। यह ऑनलाइन लेन-देन को आसान बनाने में सक्षम बनाता है और ड्रूम क्रेडिट के माध्यम से ग्राहकों को अधिक प्रतिस्पर्धी शर्तें और ब्याज दरें प्रदान करती है।”

ड्रूम वर्तमान में तेजी से विस्तार अभियान पर है। इसका उद्देश्य पूरे देश में 100 और शहरों में अपने ऑपरेशंस का विस्तार करना है। अभी यह कम्पनी 600 से अधिक शहरों में काम कर रही है।

Related Articles

Back to top button