डोनाल्ड ट्रंप ने पीएम मोदी से कहा, जब मन करे कीजिए फोन

नई दिल्ली: जापान के ओसाका में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज एक बार फिर वैश्विक नेताओं से अलग-अलग मुलाकात की. पीएम अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से भी मिले. इस दौरान गर्मजोशी देखने लायक थी. सूत्रों के मुताबिक, पीएम मोदी से मुलाकात के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उनसे कहा, ”आप मुझे कभी भी फोन कर सकते हैं.”

पीएम मोदी ने उनकी अमेरिकी राष्ट्रपति की व्यस्तताओं का हवाला दिया तो भी ट्रंप ने कहा आपके लिए ऐसा कुछ नहीं. आप मुझे कभी भी फोन कर सकते हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ द्विपक्षीय बैठक के दौरान ऊर्जा सुरक्षा और फारस की खाड़ी क्षेत्र में शांति को लेकर भारत की चिंताओं को उठाया.जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर मोदी-ट्रंप की यह बैठक ऐसे समय में हुई है जब ईरान और अमेरिका के बीच तनाव चरम पर है. पिछले सप्ताह अमेरिका ने आरोप लगाया था कि ईरान ने अमेरिका के एक ड्रोन को गिरा दिया है.मोदी-ट्रंप की बातचीत के बारे में विदेश सचिव विजय गोखले ने संवाददाताओं को बताया कि फारस की खाड़ी क्षेत्र में स्थिरता सुनिश्चित करने पर मुख्य रूप से ध्यान दिया गया.

उन्होंने कहा, ‘अस्थिरता हमें कई मोर्चे पर प्रभावित करती है, न सिर्फ ऊर्जा की जरूरतों के मामले में बल्कि खाड़ी में हमारे समुदाय की बड़ी आबादी रहती है, 80 लाख भारतीय खाड़ी क्षेत्र में रहते हैं और आर्थिक हित भी जुड़े हैं.’उन्होंने कहा, ‘ईरान के संदर्भ में प्रधानमंत्री ने हमारी ऊर्जा संबंधी चिंताओं के साथ-साथ क्षेत्र में शांति एवं स्थिरता से जुड़ी चिंताओं को रेखांकित किया.’ प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत की कुल ऊर्जा जरूरत में ईरान 11 प्रतिशत की आपूर्ति करता है. भारतीय अर्थव्यवस्था के प्रभावित होने के बावजूद ईरान से तेल के आयात में कमी की गयी है.जी-20 अंतरराष्ट्रीय नेताओं का मंच है जिसमें 19 देश और यूरोपीय संघ शामिल है. जी-20 का 14वां संस्करण यहां 28 से 29 जून तक आयोजित हो रहा है. पीएम मोदी ने आज इंडोनेशिया और ब्राजील के राष्ट्रपति से मुलाकात की.

Related Articles