5 रुपये में मरीजों का इलाज करते हैं पद्मश्री सम्मान से नवाज़े गए डॉ. एसपी मुखर्जी

0

झारखंड की राजधानी रांची के लालपुर में रहने वाले डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी को पद्मश्री सम्मान से नवाजा गया है। चिकित्सा के क्षेत्र में निस्वार्थ सेवा के लिए उन्हें ये सम्मान मिला है। डॉ. मुखर्जी इस महंगाई के जमाने में भी मरीजों का मात्र पांच रुपये में इलाज करते हैं। उनका ये सिलसिला पिछले पांच दशक से जारी है। रांची के लालपुर स्थित घर में डॉ. मुखर्जी उन मरीजों को मुफ्त में देखते हैं, जिनके पास पांच रुपये भी नहीं होते जरुरतमंद मरीजों को अपने पास से दवाइयां भी देते हैं। ऐसा वे साल 1966 से करते आ रहे हैं। गरीब मरीज उन्हें किसी मसीहा से कम नहीं समझते।

पद्मश्री मिलने डॉ. मुखर्जी का कहना है कि यह सम्मान तब सार्थक साबित होगा, जब दूसरे डॉक्टरों में भी गरीबों की सेवा करने की भावना जगेगी। लाचार मरीजों को वे मुफ्त में देखेंगे. डॉक्टरों को धरती का भगवान कहा जाता है,इस भरोसे की रक्षा करना हमारा दायित्व है। डॉ. मुखर्जी के मुताबिक चिकित्सा की सुविधा जब तक अंतिम व्यक्ति को नहीं मिल जाता, तब तक समाज को विकसित नहीं माना जाएगा।  इस मामले में झारखंड की स्थित काफी गंभीर है। अस्पतालों में ना तो डॉक्टर हैं और ना ही सुविधाएं, इसमें सुधार के लिए इससे जुड़े लोगों को संवेदनशील होना होगा।

डॉ. मुखर्जी रिम्स में पैथोलॉजी के हेड रहे हैं, वहां से रिटायर्ड होने के बाद पिछले 53 सालों से गरीबों को पांच रुपये में इलाज दे रहे हैं। रांची के बाहर के भी मरीज उनके पास इलाज कराने पहुंचते हैं, टीवी शो कौन बनेगा करोड़पति में उनकी डॉक्यूमेंट्री दिखाई गई थी। रांची में डॉ. एसपी मुखर्जी को गरीबों के मसीहा के रूप में जाना जाता है।

loading...
शेयर करें