खेल के दूत द्रविड़ और जहीर को किया जा रहा अपमानित

0

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट द्वारा बीसीसीआई का कामकाज देखने के लिए बनाई गई प्रशासकों की समिति (सीओए) के सदस्य रह चुके रामचंद्र गुहा का बीसीसीआई पर गुस्सा फूट पड़ा है । उन्होंने कहा कि राहुल द्रविड़ और जहीर खान का अपमान किया जा रहा है। रामचंद्र गुहा ने बीसीसीआई के प्रति अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि राहुल द्रविड़ और जहीर खान की नियुक्ति को रोका जाना उनका ‘सार्वजनिक अपमान’ है।

रामचंद्र गुहा

 

रामचंद्र गुहा का बीसीसीआई पर फूटा गुस्सा, कहा- कुंबले, द्रविड़ और जहीर खेल के असली रत्न थे

रामचंद्र गुहा ने बीसीसीआई को आड़े हाथों लेते हुए ट्वीट किया कि अनिल कुंबले मामले में शर्मनाक रवैये के बाद जहीर खान और राहुल द्रविड़ के प्रति तिरस्कार सामने आया है। उन्होंने कहा कि कुंबले, द्रविड़ और जहीर खेल के दूत हैं। उनके साथ इस तरह का बर्ताव नहीं किया जाना चाहिए।

गुहा ने अपने अगले ट्वीट में लिखा कि कुंबले, द्रविड़ और जहीर खेल के असली रत्न थे जिन्होंने फील्ड में अपना सब कुछ दिया। वे इस तरह सरे आम अपमानित करने के लिए नहीं हैं। गौरतलब है कि बीसीसीआई ने रवि शास्त्री को भारतीय टीम का मुख्य कोच बनाया था। इसके साथ ही जहीर खान को टीम इंडिया का गेंदबाजी कोच नियुक्त करने की बात की गयी थी।

बीसीसीआई ने राहुल द्रविड़ को विदेश दौरों के लिए बल्लेबाजी कोच बनाए जाने के बाद कही थी। लेकिन इसके बाद बीसीसीआई ने अपने कदम पीछे खींच लिए। बोर्ड ने नया बयान जारी कर कहा कि सपोर्ट स्टाफ के मुद्दे पर कोच रवि शास्त्री के कहने पर ही कोई निर्णय लिया जाएगा।

loading...
शेयर करें