यहां ड्राइविंग लाइसेंस के लिए बालिग होने की जरूरत नहीं!

15 साल से पुराने वाहन भी नहीं चलेंगे

automobile-pollution

भोपाल। मध्य प्रदेश में 15 वर्ष और उससे ज्यादा की अवधि के पुराने व्यावसायिक (कॉमर्शियल) वाहन सड़कों पर नहीं दौड़ेंगे। यह निर्णय सरकार ने लिया है। यह जानकारी राज्य के परिवहन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने मंगलवार को संवाददाताओं से चर्चा के दौरान दी।

परिवहन मंत्री सिंह ने कहा कि बढ़ते प्रदूषण के मद्देनजर राज्य सरकार ने व्यावसायिक वाहनों के संदर्भ में यह फैसला लिया है। इतना ही नहीं, इन वाहनों को न तो अब परमिट जारी किए जाएंगे और न ही इन्हें फिटनेस सर्टिफिकेट दिया जाएगा। इसके साथ ही पुलिस और परिवहन विभाग मिलकर सर्चिग अभियान भी चलाएगा।

जुविनाइल एक्ट में संशोधन किए जाने के बाद राज्य सरकार वाहन चालक का लाइसेंस जारी किए जाने की आयु की सीमा को लेकर भी अहम फैसला करने जा रही है। सिंह ने कहा कि ड्राइविंग लाइसेंस पाने की उम्र 18 वर्ष से घटाकर 16 वर्ष करने पर भी सरकार विचार कर रही है।

ज्ञात हो कि देश के विभिन्न राज्यों में बढ़ते प्रदूषण को लेकर जिरह चल रही है। दिल्ली सरकार ने तो एक दिन के अंतराल से ‘सम-विषम’ नंबर के वाहन सड़कों पर चलने देने की योजना बनाई है। इसके अलावा बिहार सरकार ने भी 15 वर्ष पुराने वाहनों के चलने पर रोक का ऐलान कर दिया है। अब मध्य प्रदेश ने भी इसी तरह का फैसला लिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button