नशे में धूत पकड़ा गया शिक्षक, हुआ सस्पेंड

यह बात सत्य है की गुरु ही विद्यार्थी के भविष्य का निर्माण करता है। लेकिन ऐसे विद्यार्थियों का क्या होगा जिसके शिक्षक ही असभ्य हो।

नई दिल्ली: पेरेंट्स अपने बच्चों को स्कूल इसलिए भेजते हैं की शिक्षक के द्वारा दिए गए ज्ञान और दिखांए गए अच्छे रास्तों को स्वीकार कर अपने जीवन को एक नई दिशा दें सकें। शिक्षक को बच्चों के लिए भगवान के रूप में माना जाता है और यह बात सत्य है की गुरु ही विद्यार्थी के भविष्य का निर्माण करता है। लेकिन ऐसे विद्यार्थियों का क्या होगा जिसके शिक्षक ही असभ्य हो।

जी हां ऐसे ही एक गैर जिम्मेदार शिक्षक का मामला सामने आया है। यह मामला है आंध्र प्रदेश का जहां सरकार ने नशे में धूत और बदतमीजी करते हुए शिक्षक को सस्पेंड किया है।

शिक्षक हुआ सस्पेंड 

के. कोटेश्वर राव नाम के एक शिक्षक का सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में वह स्कूल के स्टाफ रूम में शराब की बोतल को साथ में रखे हुए खाना खा रहा है। मामला कृष्णा जिले के पालक मंडल के कृष्णपुरम स्थित मंडल परिषद स्कूल का बताया जा रहा है। राव को शुक्रवार को सस्पेंड किया गया है। स्कूल के छात्रों मे सस्पेंड शिक्षक पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। राव पर छात्रों की मौजूदगी में शराब पीने के आरोप हैं।

शराब की तलब को कम करने के लिए अपनाएं ये उपाय - tips to reduce alcohol cravings - AajTak

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, छात्रों का कहना है कि वो वॉशरूम या अलमारी में शराब की बोतलें छिपाता था और रोज पीता था। एक छात्र ने बताया कि शराब पीने के बाद बर्खास्त शिक्षक अश्लील हरकतें करने लगता था। स्कूल के कई छात्रों के माता-पिता ने कहा है कि वे शिक्षक के बर्ताव से दुखी हैं। मंडल राजस्व अधिकारी ने राव के लिए मेमो जारी किया है और स्पष्टिकरण की मांग की है।

Related Articles