केंद्र सरकार का बड़ा ऐलान, रमजान के दौरान J-K में सेना नहीं करेगी आतंकियों के खिलाफ अॉपरेशन

नई दिल्ली। केंद्र की सत्ता रुड बीजेपी सरकार ने जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की बड़ी मांग को स्वीकार कर लिया है। सुरक्षा बलों को रमजान के पवित्र महीने के दौरान जम्मू एवं कश्मीर में अभियान नहीं चलाने को कहा है। इसकी घोषणा बुधवार को गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने महबूबा मुफ्ती को दी।

military-operation

गृह मंत्रालय के एक बयान में कहा गया है कि यह फैसला शांतिप्रिय मुस्लिमों के लिए शांतिपूर्ण माहौल में रमजान मनाने में मदद के लिए लिया गया।

बयान में कहा गया है कि गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू एवं कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को फैसले के बारे में सूचित कर दिया है।

हालांकि इस दौरान अगर कोई हमला होता है तो सामान्य नागरिकों की जान बचा के लिए सुरक्षाबलों को पलटवार का अधिकार रहेगा। इसके साथ ही सेना की सामान्य पेट्रोलिंग जारी रहेगी। सरकार का फैसला सिर्फ जम्मू कश्मीर में ही लागू होगा, यह एलओसी पर लागू नहीं होगा।

आपको बता दे कि जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार से अपील की थी कि रमजान जैसे पवित्र महीने में और अमरनाथ यात्रा की शुरुआत में सीजफायर को लागू करना चाहिए क्योकि इससे लोगों को बहुत तकलीफों का सामना करना पड़ता है। एलओसी पर गोलीबारी की घटनाओं की वजह से लोगों के मन में खौफ रहता है। उन्होंने ने कहा था, हमे ऐसे कदम उठाने चाहिए जिससे लोगों का विश्वास बहाल हो।

उल्लेखनीय है कि साल 2000 में जब अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री थे तब उन्होंने रमजान के महीने में सीजफायर किया था।

Related Articles