पेशी के दौरान अजितेश के साथ इलाहाबाद हाई कोर्ट में मारपीट, अदालत ने सुरक्षा का दिया आदेश

0

बरेली के विधायक राजेश मिश्रा की बेटी साक्षी मिश्रा के पति अजितेश के साथ कोर्ट रूम के बाहर मारपीट की गई है. इसके बाद कोर्ट ने दोनों की सुरक्षा को देखते हुए उन्‍हें कोर्ट रूम में ही बिठा लिया. साथ ही इस मामले में संज्ञान लेते हुए यूपी पुलिस के अधिकारियों को तलब करते हुए दोनों को सुरक्षा मुहैया कराने का आदेश दिया. कोर्ट ने इससे पहले साक्षी और अजितेश के शैक्षिक प्रमाणपत्र की जांच की. जस्टिस सिद्धार्थ वर्मा की पीठ ने उनकी शादी को वैध करार देते हुए उन्‍हें पति-पत्‍नी के तौर पर रहने की इजाजत दे दी. बता दें कि साक्षी ने अपनी और पति अजितेश की जान को पिता राजेश मिश्रा से खतरा बताते हुए इलाहाबाद हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी. साक्षी ने सुरक्षा मुहैया कराने की गुहार लगाई थी. कोर्ट ने उनकी याचिका पर सुनवाई पूरी करते हुए पुलिस को सिक्‍योरिटी देने के निर्देश दिए हैं.

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने सुनवाई के दौरान साक्षी के पिता और बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा को कड़ी फटकार भी लगाई. याचिका पर सुनवाई पूरी होने के बाद साक्षी और अजितेश को कड़ी सुरक्षा के बीच सुरक्षित स्‍थान पर भेज दिया है.

साक्षी मिश्रा और अजितेश कुमार के वकिल ने की पुष्टि

साक्षी मिश्रा और अजितेश कुमार के वकिल ने कहा कि साक्षी और अजितेश की सुरक्षा के लिए इलाहाबाद होई कोर्ट ने पुलिस को निर्देश दिए हैं. उनके वकील का कहना है कि केवल अजितेश को पीटा गया था. हालांकि, हमलावर कौन था ये नहीं पता है. उन्‍होंने कहा कि इस घटना से साबित होता है कि वास्तव में उनकी जान को खतरा है. इसके लिए वे सुरक्षा की मांग कर रहे थे.

पिता से बताया था जान को खतरा 

बरेली के बिथरी चैनपुर सीट से विधायक राजेश मिश्रा उर्फ़ पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी मिश्रा ने दलित युवक अजितेश कुमार से शादी करने के बाद दो वीडियो जारी कर अपने पति की सुरक्षा का गुहार लगाया था. इस वीडियो में साक्षी ने अपने पिता से जान का खतरा बताया था. उसने अपने पिता, भाई और उनके मित्र से अपनी और पति के जान को खतरा बताते हुए हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की. साथ ही दो वीडियो वायरल कर बरेली के एसपी से भी सुरक्षा की मांगी की थी.

वहीं इस मामले में विधायक राजेश कुमार मिश्रा ने कहा कि जो मीडिया में चल रहा है सब गलत है. बेटी बालिग है. उसको निर्णय लेने का अधिकार है. किसी को धमकी नहीं दी है.

loading...
शेयर करें