कान में ईयरफोन लगना पड़ा भारी ट्रेन की टक्कर से हुई मौत

नई दिल्ली: उझानी बदायूं कछला स्टेशन के पास एक युवक कान में ईयरफोन लगाकर गाना सुनते हुए पटरी पर पैदल जा रहे था युवक कीको कासगंज-बरेली पैसेंजर ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई। ट्रेन नजदीक आती देख गेटमैन ने आवाज भी लगाई, लेकिन वह ईयरफोन की वजह से सुन नहीं पाया। वह ईद पर नमाज पढ़ने के बाद बरेली में अपने दोस्त से मिलने जा रहा था।जेब में मिले आधार कार्ड से मृत युवक की पहचान कोतवाली क्षेत्र के गांव सराय स्वाले के नदीम के रूप में हुई है। हादसा बुधवार दोपहर करीब दो बजे हुआ। नदीम (25) पुत्र अबरार हादसे से करीब एक घंटा पहले ईद मनाने को बरेली जाने की बात कहकर घर से निकला था। ईयरफोन से गाने सुनते हुए वह रेल की पटरियों पर पैदल पिपरौल फाटक से स्टेशन की ओर जा रहा था। वह ट्रेन का हार्न भी नहीं सुन सका और पीछे से आई ट्रेन की चपेट में आ गया। इंजन से टकराकर वह पटरियों के पास गिर गया। कुछ देर तड़पकर मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

गेटमैन मिंटू ने बताया कि ट्रेन देख उसने पहले आवाज दी फिर बचाने के लिए युवक की तरफ दौड़ा भी लेकिन तब तक ट्रेन ने उसे चपेट में ले लिया। बाद में कछला चौकी से पुलिस मौके पर पहुंच गई। पैंट की जेब से मिले आधार कार्ड से उसकी पहचान हो सकी। पुलिस ने सेलफोन और ईयरफोन कब्जे में ले लिया। पुलिस की सूचना पर परिवार के लोग मौके पर पहुंचे।
मुंबई में करता था नौकरी, ईद पर आया था घर नदीम मुंबई में नौकरी करता था। उसके पिता का पहले ही इंतकाल हो चुका है। आठ भाई-बहनों में सबसे छोटा नदीम परिवार के साथ ईद मनाने के लिए मंगलवार शाम को ही अपने घर उझानी आया था। भाई नफीस ने बताया कि सुबह उसने नमाज पढ़ी। इसके बाद वह बरेली में रहने वाले अपने दोस्त से ईद पर मिलने के लिए निकल गया। मगर कुछ ही देर बाद उसकी मौत की खबर मिल गई

Related Articles