हफ्ते में दूसरी बार आया भूकंप, लोगों में दहशत

0

देहरादून। उत्तराखंड के लोगों में एक बार फिर दहशत का माहौल है। यहां पहले भारी बारिश और बादल फटने से भूस्खलन ने कई लोगों की जान ली। अब प्रदेश में एक बार फिर Earthquake के झटके महसूस किए गए। इससे लोग दहशत में आ गए।

Earthquake

रिक्टर स्केल पर 4 तीव्रता का Earthquake

आज सुबह करीब आठ बजे मुनस्यारी क्षेत्र में भूकंप के झटके महसूस किए गए। इससे लोग दहशत में आ गए। लोग अपने घरों से बाहर निकल आए। जानकारी के मुताबिक सुबह करीब छह बजे सीमा से लगे क्षेत्रों में भूकंप का झटका महसूस किया गया।

आपदा प्रबंधन के मुताबिक भूकंप की तीव्रता 4 तीव्रता आकी गई। Earthquake का केंद्र भारत नेपाल सीमा बताया गया है। भूकंप से किसी प्रकार के नुकसान की कोई सूचना नहीं है। हालांकि, भूकंप के झटकों से लोग डरे हुए हैं।

बता दें कि उत्तराखण्ड भूकंपीय क्षेत्र में स्थित है और किसी भी समय बेहद शक्तिशाली Earthquake की चपेट में आ सकता है। हालांकि इन रिपोर्ट्स में निश्चित समय का जिक्र नहीं किया गया है। लेकिन आशंका है कि यह भूकंप जनवरी में आ सकता है।

विज्ञान प्रौद्योगिकी और भू विज्ञान राज्य मंत्री वाइएस चौधरी ने राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में बताते हुए कहा कि उत्तराखण्ड के हिमालयी क्षेत्र पर सिंगापुर की भू वेधशाला ने कई शोध पत्र जारी किए हैं। जो बताते हैं कि यह केंद्रीय भूकंपीय क्षेत्र में स्थित है और पिछले 500 सालों के दौरान इस इलाके में कोई भी बड़ा भूकंप नहीं आया है। ऐसे में बड़ी संभावना है कि हाल के सालों में किसी बेहद शक्तिशाली भूकंप का सामना करना पड़ जाए।

वहीं अमेरिकी वैज्ञानिक साइमन क्लैम्परर ने कहा कि बड़ा भूकंप 80 से सौ साल के बाद आता है। मध्य हिमालय क्षेत्र में बड़ा भूकंप आए 213 साल बीत चुके हैं। वाडिया हिमालय भू विज्ञान संस्थान के शोध में Earthquake पट्टियों के सक्रिय होने की पुष्टि हुई है। पट्टियों की सक्रियता हिमालय क्षेत्र में बड़े भूकंप की आशंका बढ़ा रही है।

loading...
शेयर करें