IPL
IPL

अफगानिस्तान, पाकिस्तान में आया भूकंप, जम्मू-कश्मीर भी हिला

20000822 EARTHQUAKE

श्रीनगर। लुकाछिपी का खेल खेल रहा भूकंप आज फिर आया। शुक्रवार को अफगानिस्तान और पाकिस्तान में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। इसके अलावा जम्मू और कश्मीर के कुछ हिस्सों में भी भूकंप के झटके लगे हैं।

5.5 भूकंप की तीव्रता
भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 5.5 मापी गई है। भारतीय समयानुसार दोपहर 2:37 पर भूकंप आया था। भूकंप का केंद्र हिंदुकुश क्षेत्र में अफगानिस्तान के जर्म शहर से 32 किलोमीटर दूर बताया जा रहा है। इस भूकंप में अबतक जान-माल के नुकसान की कोई जानकारी नहीं मिली है। पिछले कुछ दिनों में भूकंप के झटके लगातार महसूस किए गए हैं।

चार जनवरी को भी आया था भूकंप
इससे पहले चार जनवरी को भी मणिपुर, असम, पश्चिम बंगाल, अरुणाचल, बिहार, झारखंड सहित कई इलाको में झटके महसूस किए गए। भूकंप का केंद्र इंफाल से 33 किमी दूर और गहराई 35.0 किमी नीचे मापी गई। भारत-म्यांमार सीमा पर भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 6.7 मापी गई। पूरे इंफाल की बिजली काट दी गई थी।

दो जनवरी को भी दहली थी धरती
अफगानिस्तान के हिंदुकुश में दो जनवरी को भी भूकंप आया था। भूकंप के झटके दिल्ली-NCR और कश्मीर से लेकर पाकिस्तान तक में महसूस किए गए थे। दोपहर सवा दो बजे के आसपास भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 5.8 मापी गई थी।

8.2 तीव्रता के भूकंप का खतरा
केन्द्रीय गृह मंत्रालय के आपदा प्रबंधन विशेषज्ञों ने 4 जनवरी को पूर्वोत्तर भारत में आए भूकंप के बाद चेतावनी दी है कि बिहार, उत्तर प्रदेश और दिल्ली समेत पहाड़ी राज्यों पर जल्द बड़ी तबाही आ सकती है। विशेषज्ञों ने संकेत दिए हैं कि भूकंप की तीव्रता 8.2 या इससे भी अधिक हो सकती है।

यहां सबसे ज्यादा खतरा
विशेषज्ञों का कहना है कि इन इलाकों में मणिपुर, नेपाल, सिक्किम में मची तबाही से अधिक तीव्रता वाला भूकंप आ सकता है. हाल में मणिपुर में 6.7 (जनवरी 2016), नेपाल में आए 7.3 (मई 2015) और सिक्किम में 2011 में 6.9 की तीव्रता वाले भूकंपों की वजह से भूगर्भीय प्लेटों में उथल पुथल हो गई थीं और इनमें दरारें हो गई थीं। हाल ही में आए भूकंपों की वजह से यह और भी गंभीर हो गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button