Lychee खाने से चेहरे पर आता है निखार, बढ़ती उम्र के लक्षण भी कम आते हैं नजर

लीची में कार्बोहाइड्रेट, विटामिन A, विटामिन C और B कॉम्प्लेक्स भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो शरीर के लिए गुणवान साबित होता है

लखनऊ: गर्मियों के मौसम का सबसे खास फल लीची (Lychee) खाने में जितना गुणवान होता है उतना ही चेहरे के लिए भी फायदेमंद होता है। गर्मी के मौसम में हर रोज लीची खाने से चेहरे पर निखार आता है। इसके साथ ही बढ़ती उम्र के लक्षण भी कम नजर आते हैं। लीची का फल मीठा और रसीलेदार होता है। लीची में कार्बोहाइड्रेट, विटामिन A, विटामिन C और B कॉम्प्लेक्स भरपूर मात्रा में पाया जाता है।

लीची खाने के फायदे-

  • Beta Carotene और Oligonol से भरपूर लीची दिल (Heart) को स्वस्थ रखने में मददगार है।
  • लीची का फल शारीरिक विकास को भी प्रोत्साहित करने का काम करता है।
  • कैंसर कोशि‍काओं को बढ़ने से रोकने में सहायता करता है लीची का फल।
  • अस्‍थमा से बचाव के लिए भी लीची का उपयोग किया जाता है।
  • कब्ज से निजात से निजात पाने के लिए भी लीची मददगार साबित होता है।
  • चेहरे पर निखार लाने में बहुत ज्यादा उपयोगी है लीची।

 

लीची का इतिहास

लीची का वैज्ञानिक नाम (Litchi chinensis) हैं, यह ऊष्णकटिबन्धीय फल है, जिसका मूल निवास चीन है। यह सामान्यतः मैडागास्कर, भारत, बांग्लादेश, पाकिस्तान, दक्षिण ताइवान, उत्तरी वियतनाम, इंडोनेशिया, थाईलैंड, फिलीपींस और दक्षिण अफ्रीका में पायी जाती है।

 

दक्षिण चीन में लीची अधिक संख्या में उगायी जाती हैं, इसके साथ ही थाईलैंड, लाऔस, कम्बोडिय वियतनाम बांग्लादेश, पाकिस्तान, भारत, दक्षिणी जापान, ताईवान में लीची की पैदावार की जाती है। और अब तो यह कैलिफोर्निया और फ्लोरिडा में भी उगायी जाने लगी है। देहरादून में कुछ बहुत से स्वादिष्ट फलों की खेती होती है। इनमें प्रमुख है- लीची। लीची की खेती देहरादून में 1890 से ही प्रचलित है। हालांकि शुरुआत में लीची की खेती यहां के लोगों में उतनी लोकप्रिय नहीं थी। पर 1940  के बाद इसकी लोकप्रियता जोर पकड़ने लगी। इसके बाद तो देहरादून के हर बगीचे में कम से कम दर्जन भर लीची के पेड़ तो होते ही थे।

यह भी पढ़ेKhatron Ke Khiladi 11: केपटाउन पहुंचते ही मस्ती में दिखे सभी प्रतिभागी, जानें सभी कंटेस्टेंट्स के नाम

Related Articles