ईडी करेगा यूएलसीसीएस की जांच, मांगा लेनदेन का ब्योरा

जानकारी के अनुसार रविवार को बताया कि ईडी ने एक नोटिस जारी कर सोसायटी से उन सभी वित्तीय लेनदेन का विवरण मांगा है जो पिछले पांच वर्षों में किये गये।

कोच्चि: केरल में सोने की तस्करी समेत कई मामलों की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय ने यूरालुंगल लेबर कॉन्ट्रैक्ट को-ऑपरेटिव सोसायटी (यूएलसीसीएस) के वित्तीय लेनदेन की जांच शुरू की है। जानकारी के अनुसार रविवार को बताया कि ईडी ने एक नोटिस जारी कर सोसायटी से उन सभी वित्तीय लेनदेन का विवरण मांगा है जो पिछले पांच वर्षों में किये गये। सहायक निदेशक पी. राधाकृष्णन ने सोसायटी के बैंक खातों और उसके तहत चल रही परियोजनाओं का भी ब्योरा मांगा है।

ईडी ने यूएलसीसीएस को उन सभी सरकारी परियोजनाओं का विवरण तैयार करने के लिए कहा जो पूरी हो चुकी हैं या जारी हैं। नोटिस में कहा गया है कि काला धन निरोधक कानून के तहत यूलसीसीएस के खिलाफ जांच की जा रही है। इससे पहले, ईडी ने मुख्यमंत्री के अतिरिक्त निजी सचिव और यूएलसीसीएस के बीच संबंध के बारे में ब्योरा इकट्ठा किया था।

सोसायटी के पदाधिकारी और उप-अनुबंध फर्मों के मालिक एक महीने से अधिक समय से केंद्रीय खुफिया इकाइयों की निगरानी में हैं। मजदूरों ने 1925 में उत्तरी केरल में निचले तबके की जरूरतों को पूरा करने के लिए एक सहकारी समिति के रूप में यूएलसीसीएस की शुरुआत की थी।

यह सोसायटी आज एशिया की सबसे बड़ी श्रमिक सहकारी समितियों में से एक है। सड़कों और पुलों से लेकर प्रीमियम अपार्टमेंट तक, यह सरकारी और गैर-सरकारी परियोजनाओं पर काम करती है।

यह भी पढ़े: श्रीनगर में आतंकवादियों ने फिर मंचाई दहशतगर्दी, पुलिस कांस्टेबल समेत दो घायल

Related Articles