चुनाव आयोग ने TMC को दिया बड़ा झटका, EVM में कमल के नीचे BJP का नाम नहीं

लोकसभा चुनाव 2019 के बीच इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन  का मुद्दा फिर से गरमा गया है. ईवीएम में बीजेपी के चुनाव चिन्ह ‘कमल’ के साथ पार्टी का नाम  लिखे होने के आरोप पर तृणमूल कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. चुनाव आयोग ने तृणमूल की इस शिकायत को खारिज कर दिया है.

बता दें कि तृणमूल कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल के बैरकपुर लोकसभा क्षेत्र में ईवीएम पर सिर्फ बीजेपी के चुनाव चिन्ह के नीचे पार्टी का नाम स्पष्ट रूप से दिखाई पड़ने का दावा किया और इस बारे में शनिवार को चुनाव आयोग से शिकायत की. बता दें कि चुनाव आयोग के नियमों के अनुसार, किसी भी पार्टी का नाम ईवीएम पर मुद्रित नहीं होना चाहिए.

इस शिकायत के बाद शनिवार (27 अप्रैल) को दिल्ली में कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस के नेताओं के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा से मुलाकात की. प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयुक्त से कहा कि बैलेट पेपर पर सिंबल के साथ पार्टी का नाम होना गैरकानूनी है और इसकी जांच होनी चाहिए. साथ ही आने वाले चरणों में ये ईवीएम हटनी चाहिएं.

चुनाव आयोग ने इस शिकायत का जवाब देते हुए बताया है कि बैलेट पेपर पर ऐसा कुछ नहीं है, जिससे सिंबल (कमल) के साथ पार्टी (बीजेपी) का नाम प्रतीत हो रहा हो. आयोग ने यह भी बताया कि बीजेपी के सिंबल में आखिरी बार 2013 में बदलाव किया गया था. उसके बाद 2014 के लोकसभा चुनाव में उसी डिजाइन का इस्तेमाल किया गया. चौथे चरण के मतदान से पहले ईवीएम की शिकायत का खारिज होना विपक्ष के लिए किसी झटके से कम नहीं है.

Related Articles