जल्दी ही बदल जाएगा जेडीयू का चुनाव चिह्न

JDU--621x414
File Photo

नई दिल्ली। जनता दल (यूनाइटेड) यानी जदयू का चुनाव चिह्न ‘तीर’ की जगह जल्दी ही ‘चक्र’ हो सकता है। पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में चुनाव चिह्न बदलने केलिए प्रस्ताव पारित हुआ।

जदयू ने इस सिलसिले में चुनाव आयोग से बातचीत करने के लिए पार्टी अध्यक्ष शरद यादव को अधिकृत किया है। जदयू का कहना है कि पार्टी का चुनाव चिह्न झारखंड मुक्ति मोर्चा और शिवसेना से मिलता जुलता है। इस कारण बिहार विधानसभा चुनाव में उसे जबर्दस्त घाटा उठाना पड़ा। इन दोनों दलों का राज्य में खास अस्तित्व न होने के बावजूद इन्हें करीब डेढ़ लाख मत मिले।

पार्टी महासचिव केसी त्यागी ने बताया कि बैठक के पहले दिन चुनाव निशान बदलने पर सहमति हुई। इससे संबंधित प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित हुआ। इस मामले में पहले भी जदयू नेता ने चुनाव आयोग से मुलाकात की थी। त्यागी ने बताया कि आयोग को चिह्न बदलने पर आपत्ति नहीं है। बैठक में निकट भविष्य में असम, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, पंजाब जैसे उन राज्यों पर भी चर्चा हुई, जहां निकट भविष्य में चुनाव होने वाले हैं।

पार्टी ने इन राज्यों में भाजपा विरोधी फ्रंट खड़ा करने पर जोर दिया है। बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेता श्याम रजक उपस्थित नहीं थे। रजक मंत्रिमंडल में जगह न मिलने से खासे नाराज हैं। सरकार में मंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज चल रहे जदयू के राष्ट्रीय महासचिव श्याम रजक ने खुद को पार्टी में भी अनुपयोगी करार दे दिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button