इलेक्ट्रीशियन के बेटे ने किया ऐसा काम, अमेरिका ने दिया 70 लाख का ऑफर

0

नई दिल्ली। ​जामिया मिल्लिया इस्लामिया के स्टूडेंट आमिर अली ने ऐसा कारनामा कर दिया जिसकी बदौलत अमेरिका की एक कंपनी ने उन्हें 70 लाख रुपये का जॉब पैकेज देने का ऑफर कर दिया।
इलेक्ट्रीशियन के बेटे को मिला 70 लाख का पैकेज, एक साल छोड़नी पड़ी थी पढ़ाईआपको बता दें कि आमिर अली ने जामिया से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया हैं। आमिर के पिता एक इलेक्ट्रीशियन हैं जिन्होंने बड़ी मुश्किलों से उसे पढ़ाया है। आमिर ने ये मुकाम हासिल कर एक बार फिर साबित कर दिया है सफलता किसी चीज की मोहताज नहीं।

आमिर ने जेएमआई के सेंटर फॉर इनोवेशन एंड इंटरप्रिन्योरशिप के तहत प्री इलेक्ट्रिक कार प्रोजेक्ट पर अपने बेहतरीन काम से ये मुकाम हासिल किया है।

बता दें कि इंजीनियरिंग में डिप्लोमा करने वाले किसी स्टूडेंट को अब तक इतना बड़ा पैकेज नहीं मिला है। आमिर को अमेरिका की फ्रिज़न मोटर वर्क्स ने बैटरी मनेजमेंट सिस्टम इंजीनियर का पद ऑफर किया है।

आमिर के पिता शमशाद अली जामिया में एक इलेक्ट्रिशियन हैं। साल 2014 में 12वीं के बाद आमिर को एक साल ड्राप करना पड़ा, जिसके बाद साल 2015 में जामिया में बीटेक एवं इंजीनियरिंग डिप्लोमा में प्रवेश परीक्षा पास करने के बाद उसे एडमिशन मिला। इतना ही नहीं आमिर के पिता ने कर्ज लेकर आमिर के मारुति 800 कार खरीद कर भी दी थी।

बाद में आमिर ने इस कार पर मेहनत कर इसे एक इलेक्ट्रिक कार बना दिया। जिसमे जामिया के पॉलिटेक्निक के प्रोफेसर वकार आलम और सीआइई के सहायक निदेशक डॉ. प्रभाष मिश्र के नेतृत्व में आमिर ने प्रोजेक्ट पूरा किया।

आमिर का ये कारनामा पिछले साल जामिया के स्थापना दिवस के समारोह में प्रदर्शित किया गया था। इस कारनामें कि वजह से देश और दुनिया की कई बड़ी कपनियों की नजर उस पर थी। लेकिन अंत में अमेरिका ने उन्हें अच्छा जॉब पैकेज ऑफर किया।

loading...
शेयर करें