आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच हुई मुठभेड़, लश्कर ए तैयबा के दो आतंकी ढेर

जम्मू-कश्मीर: जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में पुलिस को बड़ी बड़ी सफलता हाथ लगी है। आज सोमवार को श्रीनगर में घुसे दो आतंकियों के बीच पुलिस से मुठभेड़ (Encounter) हुई जिसमें दोनों आतंकियों को ढेर कर दिया गया है। कश्मीर (Kashmir) के आईजी विजय कुमार ने इस संदर्भ में बाताय कि श्रीनगर में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच हुई मुठभेड़ में कश्मीर पुलिस ने दो आतंकियों को मार गिराया है। दोनों ही टीआरएफ के शीर्ष कमांडर थे जो कि आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा का एक प्रमुख सहयोगी संगठन है।

आईजी विजय कुमार के मुताबिक, मारे गए दो आतंकियों के नाम अब्बास शेख और साकिब मंजूर है। अब्बास शेख टीआरएफ (द रेजिस्टेंस फ्रंट) का प्रमुख था। पुलिस को इनपुट मिला था कि इलाके में कुछ आतंकी घुसे हुए है। इसकी खबर लगते ही कश्मीर पुलिस ने आतंकियों को पकड़ने के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया। इस दौरान आतंकियों और पुलिस के बीच मुठभेड़ शुरू हुई जिसमें दोनों आतंकी को मार दिया गया। दोनों ही आतंकियों का नाम कुछ दिन पहले ही जम्मू कश्मीर पुलिस ने मोस्ट वांटेड की लिस्ट में शामिल किया था।

पहले हिजुबल मुजाहिद्दी में था अब्बास

मुठभेड़ में ढेर हुआ अब्बास शेख कुलगाम के रामपुर गांव का रहने वाला था और वह दक्षिण कश्मीर जिला से टीआरएफ का कमांडर था। अब्बास शेख इस समय घाटी में मौजूद आतंकियों में से बसे उम्रदराज का था। टीआरएफ से पहले वह हिजबुल मुजाहिद्दीन में था।

आईजीपी विजय कुमार ने की अपील

दोनों ही आतंकी पिछले काफी समय से घाटी में मासूम और निर्दोष लोगों की जान ले रहे थे। इससे पहले वह कई बार सुरक्षाबलों के आंखों में धूल झोंककर फरार हो गया था। आईजीपी विजय कुमार ने घाटी के लोगों से अपील करते हुए कहा कि वह अपने बच्चों को आतंकवाद में न शामिल होने दें और जो लोग आतंक का रास्ता छोड़कर वापस आएंगे हम उनका स्वागत करेंगे।

Related Articles