प्रदेश में 28,29 जनवरी को कोरोना टीकाकरण की तैयारियां समय से करें सुनिश्चित: CM Yogi

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने कोविड वैक्सीनेशन अभियान के अन्तर्गत 28 व 29 जनवरी, 2021 को प्रदेश में संचालित किये जाने वाले टीकाकरण कार्य की सभी तैयारियां समय से सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा है कि राज्य सरकार द्वारा किये गये कोविड मैनेजमेन्ट के परिणामस्वरूप प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति नियंत्रित है। इसके बावजूद अभी भी पूरी सतर्कता बरतना आवश्यक है। उन्होंने कोविड-19 (Covid-19) से बचाव तथा उपचार की प्रभावी व्यवस्था को बनाये रखने के निर्देश दिये हैं।

आवास पर आज हुई बैठक

CM योगी ने आज अपने सरकारी आवास पर आहूत एक बैठक में कोरोना नियंत्रण के सम्बन्ध में प्रदेश में संचालित विभिन्न गतिविधियों की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि शुक्रवार 22 जनवरी, 2021 को प्रदेश में 01 लाख 01 हजार से अधिक हेल्थ वर्कर्स का कोविड टीकाकरण किया गया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 (Covid-19) का टीकाकरण कार्य प्रत्येक दशा में भारत सरकार द्वारा निर्धारित किये गये क्रम तथा गाइडलाइन्स के अनुसार किया जाए। उन्होंने अभियान के प्रथम चरण में सभी हेल्थ वर्कर्स का वैक्सीनेशन सुनिश्चित कराने के निर्देश देते हुए कहा कि आगामी 15 फरवरी से स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को वैक्सीन की सेकेण्ड डोज़ दी जाए।

‘चिकित्सालयों की व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त रखा जाए’

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड चिकित्सालयों की व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त रखा जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि कोविड अस्पतालों में बैकअप सहित ऑक्सीजन, दवाओं तथा मेडिकल उपकरणों की पर्याप्त उपलब्धता रहे। उन्होंने कोरोना टेस्टिंग कार्य को पूरी क्षमता से संचालित करने के निर्देश देते हुए कहा कि काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग तथा सर्विलांस सिस्टम को सक्रियता से संचालित किया जाए।

CM योगी ने कोविड-19 (Covid-19) से बचाव के सम्बन्ध में लोगों को निरन्तर जागरूक किये जाने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि जागरूकता के लिए विभिन्न प्रचार माध्यमों के साथ-साथ पब्लिक एड्रेस सिस्टम का व्यापक उपयोग किया जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि जनपदों में स्थापित इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कण्ट्रोल सेन्टर पूरी सक्रियता से कार्यशील रहें।

यह भी पढ़ें: यूपी चुनाव से पहले आखिर क्यों हो रही ‘मैं मुलायम सिंह यादव’ की इतनी चर्चा?

Related Articles