हर मर्द से सिर्फ वही चाहती है ये लड़की

0

2वाशिंगटन। नशा हर चीज का बुरा होता है। लेकिन जिसे नशे की लत लग जाए। उसे और कुछ दिखता नहीं सिवाय नशे के। और अति हर चीज की बुरी होती है। चाहे वो शराब की हो, जुए की हो या फिर चढ़ती जवानी में शरीर की जरूरतों की। लोग कहते हैं कि पेट की भूख एकबारगी आदमी झेल सकता है लेकिन शरीर की भूख बर्दाश्त कर पाना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन भी होता है। अब आप ये सोच रहे होंगे कि काम की आग भला बुरी कैसे हो सकती है? तो चलिए हम आपको बताते हैं।

अमेरिका के कैलीफोर्निया में एक 19 साल की लड़की पर काम का बुखार ऐसा चढ़ा कि वो किसी भी अजनबी से मिलकर उससे दोस्ती बढ़ा लेती थी और अगले ही पल उसके साथ हमबिस्तर हो जाती थी।

चलिये अगर आप उदार मन के हैं तो यहां तक भी ठीक। हद तो तब हो गई जब वो मर्दों के अलावा अपने पालतू जानवरों से भी शरीर की भूख मिटाने लगी। खबरों को सच मानें तो पहले वो अपने पालतू कुत्ते से हवस मिटाती रही लेकिन जैसे-जैसे जवानी उफान पर आती गई उसकी भूख दिन ब दिन बढ़ती चली गई। एक खबर के मुताबिक 22 साल की उम्र में उसने अपने पालतू घोड़े से शरीर की गरमी शांत करवाना शुरु कर दिया।

3इसी तरह ब्रिटेन में सेयी कोलाड नाम की एक महिला को 17 साल की कच्‍ची उम्र में ही सेक्‍स की ऐसी लत लगी कि उसने 370 अंजान मर्दों के साथ संबंध बना डाले। उसके दिमाग में सिर्फ एक ही बात होती थी कि वो बार में पहुंचे, किसी अजनबी से मिले और कुछ ही घंटों के बाद वो उसके बिस्तर पर हो। कोलाड जब 19 साल की थी तो वो 40 अलग-अलग मर्दों के साथ हमबिस्तर हो चुकी थी। अब वो 35 साल की हो चुकी है। इस लत के चलते उससे घर खाली करा लिया गया। वह गुप्त रोगों की शिकार हो गयी और उसे दो बार गर्भपात कराना पड़ा। कोलाडे को इस लत के चलते अनेक बार इस नशे की मुक्ति से लिए केन्द्र में जाना पड़ा और 12 सूत्रीय कार्यक्रम पर अमल करना पड़ा। पिछले चार साल से वह अविवाहित जीवन बिता रही है।

 

loading...
शेयर करें