शिपिंग कंटेनर की कमी से गुजरात में अटका 10,000 करोड़ का export

गाँधी नगर : शिपिंग कंटेनर की कमी का असर अब केमिकल एक्सपोर्ट पर नज़र आने लगा है। इस कड़ी में खबर के मुताबिक कंटेनर के दाम बढ़ने से गुजरात की केमिकल इंडस्ट्री का दस हजार करोड़ रुपये का export फंस गया है।

export में देरी के साथ साथ बढ़ गए हैं दाम

इस कड़ी में जानकारों के मुताबिक शिपिंग कंटेनर की कमी से भाड़ा आठ -दस गुना बढ़ा है। इसकी वजह से केमिकल कारोबारी एक्सपोर्ट ऑर्डर को डिलीवर नहीं कर पा रहे हैं। इस कड़ी में जानकारों के मुताबिक इंडस्ट्री इस पूरे मामले के लिए चीन को  जिम्मेदार ठहरा रही है। इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें की इन कंटेनर्स की कमी का असर गुजरात केमिकल्स के अलावा और भी कई बड़ी कम्पनियों पर पड़ा है।

यह भी पढ़ें :IT professional को नौकरी देने के लिए इस महीने जॉब फेयर लगाएगा अमेज़न 

खबर है इस कमी की वजह से इस का किराया काफी बढ़ गया है। जहाँ पहले मैक्सिको में शिपिंग कंटेनर का भाड़ा तेरहसौ डॉलर चुकाना होता था वह अब बढ़कर तेरह हज़ार डॉलर हो गया है। वहीं इजिप्ट में पहले तीनसौ डॉलर  शिपिंग कंटेनर का भाड़ा देना होता था जो अब छे हज़ार डॉलर  प्रति कंटेनर  हो गया है।

यह भी पढ़ें : “चिकने घड़े पे पानी नहीं ठहरता” वाली कहावत सही बैठी, जानिए अमेरिकी सेना ने अफगानिस्तान से जाते-जाते क्या-क्या छोड़ गए

Related Articles