बवाल के बाद Fabindia ने वापस लिया Jashn-e-Riwaaz कैम्पैन

लखनऊ : एथनिक वियर ब्रांड Fabindia के ऐड कैंपेन पर बवाल मच गया है। इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें की कम्पनी ने हाल ही में Jashn-e-Riwaaz कैम्पैन शुरू किया था जिसपर काफी विवाद पैदा हो गया है। जिसके बाद कंपनी ने इस कैंपेन को वापस ले लिया है।

Fabindia के उर्दू शब्द इस्तेमाल करने से नाराज़ हुए सांसद

आपको बता दें इस कैंपेन के तहत , फैबइंडिया ने अपने क्लेक्शन के बारे में एक ट्वीट किया था, जिसमें पांच पुरुष और महिला मॉडल को मैरून रंग के भारतीय परिधान में दिखाया था। इस ट्वीट में लिखा, “जैसा कि हम प्यार और रोशनी के इस त्योहार का स्वागत करते हैं, फैबइंडिया की तरफ से जश्न-ए-रियाज एक ऐसा क्लेक्शन पेश है, जो खूबसूरती से भारतीय संस्कृति को सम्मान देता है।”

दरअसल फैबइंडिया का यह एड कैंपेन उस वक्त विवाद के रूप में बदल गया, जब बीजेपी के एक लोकसभा सांसद ने दिवाली के “जश्न-ए-रिवाज” टैगलाइन को हिन्दू धर्म के लिए खतरा बताते हुए ट्वीट किये थे, जिसमे उन्होंने कहा था की कंपनी को इस दुस्साहस की कीमत चुकानी होगी।

सांसद  ने ट्वीट में कहा था , “दीपावली जश्न-ए-रिवाज नहीं है। पारंपरिक हिंदू परिधानों के बिना मॉडल का चित्रण करने वाले हिंदू त्योहारों के अब्राह्मीकरण के इस जानबूझकर किए गए प्रयास को बंद किया जाना चाहिए।”

यह भी पढ़ें : नई राजनीतिक पार्टी बनाएंगे पूर्व मुख्यमंत्री, बीजेपी के साथ गठबंधन की संभावना

Related Articles