फर्जी डॉक्टर बनकर लड़की ने लड़के को ठगा, उड़ा ले गयी तीन हजार रुपए व फोन

0

हल्द्वानी। हल्द्वानी में डॉ. सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज की एक डॉक्टर बनकर आरोपी निधि ने उत्तर प्रदेश के सीतापुर के रहने वाले सिद्धार्थ को ठग लिया। दरअसल, निधि एक फर्जी डॉक्टर थी जिसने युवक से डॉक्टर निधि के नाम से फेसबुक पर फर्जी आईडी बनाकर दोस्ती की। इस मामले में युवक का आरोप है कि निधि ने उससे धोखे से तीन हजार रुपए व उसका मोबाइल फोन ले लिया और फिर फरार हो गयी।

डॉक्टर

डॉक्टर ने कर ली ठगी

जब तक पीड़ित युवक को एहसास हुआ कि निधि ने उसके साथ धोखा किया है तब तक काफी देर हो चुकी थी क्योंकि अब निधि वहां से भाग चुकी थी। सिद्धार्थ ने बताया कि वो सीतापुर प्रदेश उत्तर प्रदेश का रहने वाला है और अभी एमसीए की पढ़ाई करता है।

हाल में उसकी दोस्ती फेसबुक पर हल्द्वानी में रहने वाली डॉक्टर निधि से हुई। कुछ दिन बाद दोनों फोन पर बात करने लगे। फिर एक दिन निधि ने युवक को हल्द्वानी मिलने के लिए बुलाया। सिद्धार्थ शुक्रवार की सुबह करीब 10 बजे एसटीएच में उससे मिलने पहुंचा।

एसटीएच में निधि उसे डॉक्टर के वेश में मिली और वेटिंग रूम में ले गई। युवती ने सिद्धार्थ से कहा कि उसे जरूरी काम से एक बैंक ड्राफ्ट बनाना है और इंटरनेट पर कुछ काम भी करना है। बैंक ड्राफ्ट बनाने व नेट का काम करने के बहाने युवती ने सिद्धार्थ से तीन हजार रुपये और उसका मोबाइल मांगा और कुछ देर बाद काम निपटाकर आने पर लौटाने का झांसा दिया। इसके बाद युवती फरार हो गई।

जब काफी देर हो गयी और युवती वापस नहीं आई तब पीड़ित ने उसे फोन किया तो इसपर आरोपी ने बहाना बताया कि उसकी मां की तबियत अचानक ख़राब हो गयी है जिसकी वजह से उसे बरेली जाना पड़ रहा है। इसपर युवक ने कहा कि वो भी बरेली आ रहा है।

यह भी पढ़ें : 

इसपर जब सिद्धार्थ को एहसास हुआ कि आरोपी डॉक्टर ने उसके साथ ठगी की है तो वो सीधे पुलिस स्टेशन चला गया और रिपोर्ट दर्ज करायी। इसके साथ ही पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है। साथ ही आरोपी युवती की तलाश भी शुरू कर दी है लेकिन अभी तक पुलिस को कोई सुबूत नहीं मिला है।

loading...
शेयर करें