बम की झूठी अफवाह से यात्रियों में मचा हड़कम्प, इतने घंटे खड़ी रही ट्रेन

बम की झूठी खबरे लगातार सामने आ रही हैं। हालही में बलिया से खबर आई थी कि वहां के न्यायालय परिसर में बम रखा गया है।

नई दिल्ली: बम की झूठी खबरे लगातार सामने आ रही हैं। हालही में बलिया से खबर आई थी कि वहां के न्यायालय परिसर में बम रखा गया है। लेकिन कई घंटों की जांच के बाद पता चला कि एक पुलिसकर्मी के द्वारा अफवाह फैलाई गई थी। इसके बाद दिल्ली से लखनऊ जाने वाली ट्रेन में भी बम होने की झूठी खबर सामने आई, जिसकी वजह से डेढ़ घंटे ट्रेन एक ही जगह पर खड़ी रही।

बताया जा रहा कि नई दिल्ली से लखनऊ जाने वाली लखनऊ एसी कोविड स्पेशल ट्रेन बम की सूचना पर डेढ़ घंटे तक गाजियाबाद रेलवे स्टेशन पर खड़ी रही। ट्रेन की सघन चेकिंग की गई। कुछ भी संदिग्ध न पाए जाने के बाद ट्रेन को रवाना किया गया। इस दौरान यात्रियों की सांसें थमी रहीं।

सुरक्षा एजेंसी अलर्ट

जानकारी के मुताबिक नई दिल्ली से लखनऊ जाने वाली 02430 एसी स्पेशल ट्रेन नई दिल्ली से गुरुवार रात साढ़े 11 बजे रवाना हुई। ट्रेन का अगला स्टॉपेज गाजियाबाद स्टेशन पर था। नई दिल्ली से रवाना होने के बाद कंट्रोल रूप से सूचना दी गई कि ट्रेन में बमा रखा हुआ है। सूचना के बाद इसकी जानकारी गाजियाबाद स्टेशन को दी गई। गाजियाबाद स्टेशन पर ट्रेन 12 बजकर 10 मिनट पर पहुंची। इससे पहले ही सभी सुरक्षा एजेंसी अलर्ट हो चुकी थी।

Ghaziabad Railway Station News - Railway Enquiry

आरपीएफ व जीआरपी के अलावा कोतवाली पुलिस भी स्टेशन पहुंच गइ। ट्रेन में बम या विस्फोटक सामग्री को खोजने के लिए मेटल डिटेक्टर की मदद ली गई। इसके साथ ही पीएससी वाहनों के खोजी कुत्ता दस्ता भी बुलाया गया। करीब सवा घंटे तक पूरी ट्रेन की बोगियों की जांच की गई। इस  दौरान किसी भी यात्री को ट्रेन से बाहर नहीं निकलने दिया गया। ट्रेन की भीतर ही सभी यात्रियों के सामान की जांच की गई। ट्रेन के सभी शौचालय, इंजन, गार्ड रूम के अलावा ब्रेकयान की भी जांच की गई।

कुछ भी संदिग्ध न पाए जाने के बाद जब सभी जांच एजेंसी संतुष्ट हो गए। इसके बाद ट्रेन को आगे के लिए रवाना किया गया। गाजियाबाद स्टेशन से ट्रेन को डेढ़ घंटे की देरी से रवाना किया गया।

यह भी पढ़ें: पुलिस कांस्टेबल के झूठी खबर से मचा हड़कम्प, पुलिसकर्मी के खिलाफ केस दर्ज

Related Articles