किसान आंदोलन: ‘सरकार बताए किसानों को अभी कितना बलिदान देना होगा’

नई दिल्ली: कृषि बिल में सुधार के लिए आंदोलन कर किसानों को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी लगातार BJP सरकार पर हमला बोल रहे हैं। राहुल गांधी ने कहा है कि सरकार भीषण ठंड के बावजूद आंदोलन करने को मजबूर किसानों की बात सुनने को तैयार नहीं है। इसलिए उसे बताना चाहिए कि किसानों को अभी कितना बलिदान देना होगा।

कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, “ पिछले 17 दिनों में 11 किसान भाईयों की शहादत के बावजूद निरंकुश मोदी सरकार का दिल नहीं पसीज रहा। वह अब भी अन्नदाताओं के साथ नहीं, अपने धनदाताओं के साथ क्यों खड़ी है। देश जानना चाहता है-“राजधर्म” बड़ा है या “राजहठ” किसान आंदोलन।”

उन्होंने कहा, “लोकतंत्र में निरंकुशता का कोई स्थान नहीं। आप और आपके मंत्रियों की नीति हर विरोधी को माओवादी और देशद्रोही घोषित करने की है। भीषण ठंड और बरसात में जायज़ माँगों के लिए धरने पर बैठे अन्नदाताओं से माफ़ी माँगिए और उनकी माँगें तत्काल पूरी करिए।”

बता दें कि किसान कई दिनों से सरकार द्वारा बनाए गए कृषि कानून में सुधार के लिए आंदोलन कर रहे हैं। वो दिन रात ठंड में धरने पर बैठकर अपने मांगे पूरी करने की गुंहार लगा रहे हैं। लेकिन सरकार इस पर कोई सुनवाई नहीं कर रही है। ऐसे में कई किसान अपनी जान भी गांवा चुके हैं।

यह भी पढ़ें: कोरोना की रफ्तार पर अमेरिका लगाएगा ब्रेक, फाइजर की वैक्सीन को मिली मंजूरी

Related Articles

Back to top button