किसानों ने दूसरे दिन भी कराया टोल फ्री, धरने पर डटे हैं किसान

हिसार: किसान संगठनों के आहवान पर तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आज दूसरे दिन भी हिसार जिले के सभी चारों टोल प्लाजाओं को किसानों ने टोल फ्री कराया।

हिसार-दिल्ली NH-9 पर मय्यड़ टोल प्लाजा, हिसार-चंडीगढ़ राजमार्ग पर बाडो पट्टी, हिसार-सिरसा रोड पर चिकनवास और हिसार-भादरा रोड़ पर चौधरीवास टॉल प्लाजा पर दूसरे दिन भी किसान धरना पर बैठे रहे। मय्यड़ टोल प्लाजा पर किसानों ने धरना दिया और लगातार दूसरे दिन भी टोल प्लाजा को टोल फ्री कराया।

धरने को संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष शमशेर सिंह नम्बरदार ने कहा कि जब तक तीनों कृषि कानून और बिजली अधिनियम 2020 और पराली जलाने पर एक करोड़ जुर्माना और पांच साल की सजा जैसे खतरनाक कानूनों के लिए केंद्र सरकार किसानों से माफी मांगते हुए वापस नहीं ले लेती और इन तीन कानूनों को निरस्त नहीं करती तब तक किसानों का  आंदोलन इसी तरह चलता रहेगा। पहले जिला, उसके बाद तहसीलों और ब्लॉक स्तर पर ग्रामीण कमेटियां बनाई जाएंगी।

उन्होंने कहा कि आज किसान ही नहीं आज जन-जन इस आंदोलन से जुड़ चुका है और यह जनांदोलन बन चुका है। इस जनांदोलन को बखूबी मजबूत करते हुए दिल्ली को चारों तरफ से घेरे रहेंगे और घर वापस नहीं जाएंगे। चाहे इसके लिए देश के किसान को कितनी ही बड़ी कुर्बानी क्यों न करनी पड़े।

धरने को सम्बोधित करते हुए मनोज राठी ने कहा कि किसानों की एकता देखकर सरकार बौखलाई हुई है और धरने को तोड़कर कमजोर करने के लिए आए दिन जाति का जहर फैलाने की कोशिश कर रही है।

यह भी पढ़ें: MP सरकार का बड़ा फैसला, लव जिहाद बिल को दी मंजूरी

Related Articles

Back to top button