BJP नेताओं के पीछे पड़े किसान, जहां जाते हैं वहीं शुरु कर देते प्रदर्शन

पंजाब: कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन के बीच भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेता जहां भी जाते हैं, किसान वहीं पहुंचकर प्रदर्शन व नारेबाजी करने लगते हैं।

दो दिन पहले होशियारपुर में भाजपा के वरिष्ठ नेता तीक्ष्ण सूद के घर के बाहर गोबर से भरी ट्राली उलटने की घटना के बाद  अब भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा, राज्यसभा सदस्य सुमित मलिक, पंजाब के पूर्व मंत्री मनोरंजन कालिया प्रवक्ता अनिल सरीन व पार्टी के मोगा जिलाध्यक्ष विनय शर्मा आदि की बैठक थी। जिसका उद्देश्य कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाना था, लेकिन प्रदर्शनकारी किसान विनय शर्मा के घर के बाहर भी जमा होकर नारेबाजी करने लगे। किसानों का प्रदर्शन बारिश के बावजूद जारी रहा।

भाजपा नेताओं ने आरोप लगाया कि प्रदेश में सत्तारूढ़ कांग्रेस के इशारे पर कानून व्यवस्था पूरी तरह बिगड़ चुकी है और भाजपा कार्यकर्ताओं को कमरे में भी बैठक नहीं करने दी जा रही। इससे पहले जब सुमित मलिक और अश्विनी शर्मा जिलाध्यक्ष के आवास पर गये और करीब आधा घंटा वहां रहे, इस दौरान बाहर किसानों का धरना जारी रहा। किसान अक्तूबर के अंतिम सप्ताह से ही तमाम भाजपा नेताओं के आवासों के बाहर ढेरा डाले हुए हैं। BJP नेताओं ने आरोप लगाया कि कांग्रेस कार्यकर्ता ऐसे धरनों के लिए किसानों को उकसा रहे हैं, उनका इस्तेमाल कर रहे हैं। 

यह भी पढ़ें: Farmer Strike: कांग्रेस विधायकों का जयपुर में धरना

Related Articles