किसानों ने कुंडली बॉर्डर पर आठ किलोमीटर तक लगाई जाम, बनाई बस्ती 

रियाणा में सोनीपत के कुंडली बॉर्डर पर तीन कृषि कानूनों के विरोध में धरने पर बैठे हजारों किसानों की करीब आठ किलोमीटर तक अस्थाई बस्ती बस गई है।

सोनीपत: हरियाणा में सोनीपत के कुंडली बॉर्डर पर तीन कृषि कानूनों के विरोध में धरने पर बैठे हजारों किसानों की करीब आठ किलोमीटर तक अस्थाई बस्ती बस गई है। सूत्रों ने रविवार को बताया कि ट्रैक्टर-ट्राली और अन्य वाहनों से किसानों का कुंडली बार्डर पर पहुंचने का सिलसिला लगातार जारी है।

हजारों वाहनों और किसानों के जमावड़े के कारण कुंडली बॉर्डर से लेकर रसोई गांव से भी आगे तक करीब आठ किलोमीटर लंबी अस्थाई बस्ती बस गई है। सबसे आगे निहंगों का जमावड़ा है। अब यहां युवा निहंग भी पहुंच गये है और वे लगातार प्रदर्शन कर किसानों में जोश भर रहे हैं। आज करीब दो घंटे तक युवा निहंगों ने गतके का प्रदर्शन किया और गुरु गोविंद सिंह की बहादुरी का परिचय देते एक नाटक का मंचन भी किया।

ये भी पढ़ें : राशन नियमों में बड़ा बदलाव, तीन महीने तक नहीं लिया राशन तो…

उन्होंने कहा कि इसके अलावा धरनास्थल पर विभिन्न गुरुद्वारों से सिख श्रद्धालुओं के जत्थे लगातार पहुंच रहे हैं और अलग-अलग जत्थों में सुबह-शाम शबद कीर्तन हो रहा है, जिसमें सिख श्रद्धालु भाग ले रहे हैं। पटियाला से आए गुरबचन सिंह ने बताया कि वे गुरबाणी व शबद कीर्तन के लिए उनकी टीमें यहां मौजूद हैं। ये टीमें सुबह-शाम माहौल को धार्मिक बनाने का काम कर रही हैं। ये टीमें अपने साथ कीर्तन का साजो-सामान लेकर भी आईं हैं।

ये भी पढ़ें : तेलंगाना: क्रिकेट सट्टेबाजी रैकेट का भंडाफोड़, दो सट्टेबाज हिरासत में

जीटी रोड पर बीस मील तक जाम

शनिवार देर रात तक पंजाब से सैकड़ों की संख्या में ट्रैक्टर-ट्राली तथा अन्य वाहनों से बड़ी संख्या किसान कुंडली बार्डर के पास पहुंचने से जीटी रोड पर बीस मील तक जाम की स्थिति बन गई थी। इसके कारण चंडीगढ़ की ओर से आने वाले वाहनों का जीरो पॉइंट से केजीपी-केएमपी की ओर जाना भी मुश्किल हो गया था। हालांकि देर रात को ही पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद वाहनों का आवागमन सुचारू हो पाया।

Related Articles

Back to top button