100 कुंतल से अधिक धान बेचने वाले किसानों का होगा रैण्डम आधार पर सत्यापन, 24 घंटे में होगा भुगतान

किसानों का धान तौल के समय क्रय केन्द्र पर उनकी फोटोग्राफी करने के साथ वीडियोंग्राफी भी करायी जाएगी।

बस्ती: उत्तरप्रदेश के जिले बस्ती में 100 कुंतल से अधिक धान बेचने वाले किसानों का रैण्डम आधार पर सत्यापन कराया जायेगा और बिक्री करने वाले किसानों का धान तौल के समय क्रय केन्द्र पर उनकी फोटोग्राफी करने के साथ-साथ वीडियोग्राफी भी करायी जाएगी।

121 धान क्रय केन्द्र

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि जिले मे 121 धान क्रय केन्द्र स्थापित है। सभी क्रय केन्द्र पर प्रभारियो को निर्देश प्रदान किया गया है कि 100 कुंतल से अधिक धान बेचने वाले किसानों का रैण्डम के आधार पर सत्यापन कराया जाये और बिक्री करने वाले किसानों का धान तौल के समय क्रय केन्द्र पर उनकी फोटोग्राफी करने के साथ वीडियोग्राफी भी करायी जाये।

24 घण्टे के अंदर धान का भुगतान

आधिकारिक सूत्रों ने यह निर्देश भी दिया कि क्रय केन्द्र पर खरीदे गये धान का भुगतान 24 घण्टे के अन्दर कराये। किसान द्वारा अवैध ढंग से पंजीकरण कराया गया होगा तो उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया जायेगा। साथ ही यह भी बताया गया की किसानों के समस्याओं के समाधान के लिये कंट्रोल रूम की स्थापना भी किया गया है।

कंट्रोल रूम

बस्ती के डीएम आशुतोष निरंजन ने बताया कि धान खरीद में किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य दिलाने और बेचने में आने वाली समस्या के समाधान के लिए कलेक्ट्रेट में कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है। उन्होंन बताया कि जनपद के किसान अपनी समस्याओं के समाधान के लिए कंट्रोल रूम के दूरभाष नंबर 05542-245725 और व्हाट्सएप नंबर 7839565077 पर सुबह 09.00 बजे से शाम 05.00 बजे तक संपर्क कर सकते हैं।

कारण बताओ नोटिस

सहकारी समिति के छह और पीसीएफ के आठ, यूपीपीसीयू के दो क्रय केंद्र बंद पाए गए है। इन क्रय केन्द्र प्रभारियों के विरुद्ध कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए निर्देश दिया कि जनपद में सभी क्रय केन्द्रों को क्रियाशील कराते हुए खरीद प्रारंभ कराई जाए।

यह भी पढ़े:बिहार विधानसभा चुनाव: नीतीश कुमार ने खेला आबादी के आधार पर आरक्षण देने का दांव

यह भी पढ़े:फ्रांस में हुए आतंकी हमले पर UAE और ईरान ने जतायी नाराजगी, इस्राइल ने की आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होने की अपील

 

 

 

Related Articles

Back to top button