FATF की बैठक का आगाज, ग्रे या ब्लैक लिस्ट में पाकिस्तान के नाम की होगी समीक्षा

नई दिल्लीः फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स की तीन दिवसीय बैठक का आगाज हो चुका है। इस दौरान FATF ग्रे लिस्ट की समीक्षा करते हुए पाकिस्तान पर भी फैसला करेगा।

दरअसल 21 अक्टूबर से 23 अक्टूबर तक वर्चुअल समिट के माध्यम से चलने वाली इस बैठक में FATF पाकिस्तान का नाम ग्रे लिस्ट में रखने या हटाने पर समीक्षा करेगा। जहां पाकिस्तान पिछले कई महीनों से इस फेहरिस्त से निकलने की जद्दोजहद में जुटा है, वहीं कई जानकारों के अनुसार पाकिस्तान FATF के टास्क को पूरा करने में असफल रहा है, जिसके चलते  FATF पाक को ग्रे लिस्ट में बरकारा रखा सकता है।

आपको बता दें कि FATF  ने पाकिस्तान का नाम ग्रे लिस्ट से हटाने के लिए उसके सामने 27 टास्क रखे थे। जिनमें से पाक ने 21 टास्क पूरे कर लिए लेकिन छह महत्वपूर्ण टास्क अभी भी बाकी हैं। इसी के साथ पाकिस्तान सरकार भारत के मोस्‍ट वांटेड आतंकी मौलाना मसूद अजहर और लश्‍कर-ए-तैयबा के संस्‍थापक हाफिज सईद के खिलाफ एक्‍शन लेने में भी असफल रही है। बावजूद इसके कि जैश सरगना मसूद अजहर को संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित कर दिया है।

वहीं FATF की ग्रे लिस्ट के बारे में बात करें तो, 2018 में इस फेहरिस्त में कुल 7600 नाम थे, लेकिन पिछले 18 महीने में इसकी संख्‍या को घटाकर 3800 कर दिया गया। यही नहीं इस साल मार्च महीने की शुरुआत से लेकर अब तक 1800 नामों को ग्रे लिस्‍ट से हटाया जा चुका है।

Related Articles