पिता और दादा करते थे 14 साल की बच्ची का रेप, दादा गिरफ्तार लेकिन पिता फरार

0

फरुखाबाद। एक पिता जिसके कंधे पर अपनी बेटी के पालन-पोषण की जिम्मेदारी है और एक दादा जो अपनी पोती को परियों को कहानी सुनाकर अच्छी सीख देता है, इस बार वही दादा और पिता एक मासूम बच्ची की अस्मत से खिलवाड़ करने के दोषी पाए गए। रिश्तों पर कुठाराघार पहुंचाने वाली यह खबर उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले से सामने आई है। मामला सामने आने के बाद आरोपी दादा को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि पिता अभी भी फरार है।

मिली जानकारी के अनुसार, एक पिता और दादा मिलकर नाबालिग बेटी/पोती के साथ काफी समय से दुष्कर्म कर रहे थे। एएसपी के आदेश पर दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इस मामले का खुलासा तब हुआ, जब पीड़ित लड़की ने अपनी नानी के पास पहुंचकर उसे आपबीती सुनाई। लड़की की मां की मौत हो चुकी है। 14 वर्षीय लड़की आठवीं कक्षा की छात्रा है।

पुलिस के अनुसार, कोतवाली शहर के मोहल्ला घोड़ानखास दरीबा (पश्चिम) निवासी एक महिला ने एएसपी को दिए प्रार्थनापत्र में कहा है कि उसकी बेटी की मौत हो चुकी है, उसकी बड़ी नातिन 14 साल की और छोटी 12 साल की है। बड़ी नातिन का यौन शोषण उसका पिता दो साल से कर रहा था और दादा आठ महीने से। उसके दामाद ने जब छोटी बेटी को भी अपनी हवस का शिकार बनाने का प्रयास किया, तब दोनों लड़कियां भागकर नानी के पास आईं और उसे अपनी आपबीती सुनाई।

महिला ने कहा है कि 16 वर्ष पहले उसकी बेटी की शादी मोहल्ले के ही युवक के साथ हुई थी। उसकी बेटी ने दो साल के अंतराल पर दो लड़कियों को जन्म दिया। पति के उत्पीड़न से परेशान होकर उनकी बेटी की छह साल पहले मौत हो गई। इसके बाद वह अपनी दोनों नातिनों को अपने घर बुला लाई थी। कुछ साल बाद दोनों बच्चियां जब बड़ी हुईं, तब उसने अपने दामाद से बेटियों के पालन-पोषण का खर्च उठाने के लिए कहा, तब वह दोनों बेटियों को अपने घर ले गया और हैवानियत की।

महिला के मुताबिक, दोनों बेटियां दो दिन पहले भागकर नानी के घर आई और आपबीती सुनाई। बड़ी नातिन ने बताया कि उसका पिता और दादा उसके साथ दुष्कर्म कर रहे थे। पिछले दिनों उसने छोटी बेटी को भी हवस का शिकार बनाना चाहा, लेकिन विरोध के कारण सफल नहीं हो पाया।

अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन सिंह ने बताया कि पीड़ित लड़की की नानी की शिकायत पर उसके दादा मुरारी और पिता वीरेंद्र के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पीड़ित किशोरी का भी बयान दर्ज किया गया है। मुरारी को गिरफ्तार कर लिया गया है, लेकिन वीरेंद्र फरार है।

loading...
शेयर करें