कौशांबी में पिता पुत्र की हत्या का खुलासा, पत्नी समेत चार गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि चायल कस्बा का नौसे उर्फ वकील (34) मुंबई में रहकर सिलाई का काम करता था। घर में उसकी पत्नी और बच्चे रहते थे। लॉकडाउन में नौसे मुंबई से घर लौट कर सिलाई का कारोबार कर रहा था।

कौशांबी: उत्तर प्रदेश की कौशांबी जिला पुलिस ने पिपरी क्षेत्र में पिता और पुत्र की हत्या का खुलासा करते हुए हत्यारी पत्नी और उसकी बहन-बहनोई और उनके बेटे को आज गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने बताया कि चायल कस्बा का नौसे उर्फ वकील (34) मुंबई में रहकर सिलाई का काम करता था। घर में उसकी पत्नी और बच्चे रहते थे। लॉकडाउन में नौसे मुंबई से घर लौट कर सिलाई का कारोबार कर रहा था। गुरुवार रात उसके घर कुछ तांत्रिक झाड़-फूंक के लिए आए थे। शुक्रवार भोर में नौसे एवं उसके तीन वर्षीय पुत्र अरमान का शव आंगन में पड़ा मिला था। घर के अंदर ही उन्हें दफन करने की मंशा से गड्ढा खोदा गया था।

उन्होंने बताया कि इस मामले में नौसे के भाई अजमल की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज कराया था। पुलिस ने मृतक की पत्नी पर शक करते हुए पूछताछ करनी शुरु कर दी और उसने चौकाने वाला खुलासा करते हुए बताया कि उने तंत्र मंत्र की सिद्धि के चलते अपने बहनोई और बहन नूरी के साथ मिलकर पुत्र एवं पति की हत्या कराई है। पुलिस ने आज नौसे की पत्नी गुलनाज को उसके जीजा फतेहपुर निवासी तंत्र मंत्र सिद्धि का काम करने वाले सफदर अली उर्फ बबलू , उसकी पत्नी नूरी और उसके बेटे अनस को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के अनुसार तंत्र मंत्र सिद्धि का काम करने बबलू अक्सर नौसे के घर आया करता था। घटना के तीन दिन पहले वह अपनी पत्नी नूरी एवं 14 वर्षीय बेटे अनस के साथ घर आया था। तभी से बबलू ने अपने साढू नौसे उसकी पत्नी गुलजार एवं तीन बच्चों को घर के अंदर कैद कर रखा था।

पुलिस के अनुसार गुरुवार रात बबलू ने तंत्र मंत्र सिद्धि के लिए अपनी पत्नी नूरी, पुत्र अनस की मदद से नौसे के तीन वर्षीय पुत्र अरमान की गला दबाकर हत्या कर दी फिर और उसे जिंदा करने के लिए नौसे की भी हत्या कर उसकी आते निकाल ली गई। पत्नी की मदद से नौसे एवं उसके पुत्र अरमान के शव को घर के अंदर ही दफन करने के लिए गड्ढा तैयार कर लिया गया था।

आरोपी बहन, बहनोई को गिरफ्तार कर भेजा जेल

उन्होंने बताया कि रात में ही आरोपी बबलू अपनी पत्री नूरी एवं बेटे अनस के साथ फरार हो गया था। पुलिस के अनुसार गुलनाज ने जुर्म कबूल कर घटना का खुलासा किया तो आरोपी उसके बहनोई बबलू, बहन नूरी एवं उसके पुत्र अनस को पुलिस ने आज गिरफ्तार कर कड़ाई से पूछताछ की तो घटना का सच उगल दिया। आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

यह भी पढ़े: बागपत में दुष्कर्म के बाद इंटरनेट पर किये युवती के फोटो वायरल, मुकदमा दर्ज

Related Articles

Back to top button