पिता की पिस्टल से बेटे ने अपने कनपटी पर गोली मारी,हालत गंभीर

0
उत्तर प्रदेश: के रोहटा क्षेत्र में सलाहपुर गांव में शाम को बीएससी के छात्र ने खुद को टॉयलेट में बंद कर के पिता की लाइसेंसी पिस्टल से अपनी कनपटी पर गोली मार ली। खून से लथपथ छात्र को केएमसी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी हालत नाजुक बताई जा रही है। प्रारंभिक जांच में पुलिस ने घटना के पीछे पढ़ाई का तनाव बताया है।

पुलिस के अनुसार सलाहपुर गांव निवासी जहांगीर चौहान (22) पुत्र शमशेर अली सुभारती में बीएससी जूलॉजी फाइनल वर्ष का छात्र है। छात्र के पिता की पूठ में मुख्य मार्ग पर मिठाई की दुकान है। बुधवार शाम छात्र कॉलेज से घर पहुंचा था। घर पर उसकी मां और छोटी बहन थी। जबकि पिता दुकान पर थे। शाम करीब पौने सात बजे जहांगीर ने अपनी मां से कहा कि मुझे अलमारी की चाबी चाहिए, उसमें कुछ कागजात रखे हैं। यह बहाना बनाकर उसने मां से चाबी लेकर अलमारी में रखी पिता की लाइसेंसी पिस्टल निकाल ली। तभी मां चाय बनाने के लिए रसोई में चली गईं।

इस दौरान छात्र जहांगीर टॉयलेट में पहुंचा और अंदर से दरवाजा बंद कर गोली मार ली। वह खून से लथपथ हालत में जमीन पर गिर पड़ा। इस दौरान मां और बहन ने शोर मचाते हुए दरवाजा तोड़ने की कोशिश की। लेकिन दरवाजा नहीं टूटा। इस बीच पड़ोस के लोग भी पहुंचे। जिसके बाद दरवाजा तोड़ा गया। घायल जहांगीर को परिजनों ने केएमसी अस्पताल में भर्ती कराया। छात्र की मां ने इसकी सूचना कंट्रोल रूम को सूचना दी। जिसके बाद एसओ रोहटा धनवीर सिंह मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली। एसओ रोहटा ने बताया कि लाइसेंसी पिस्टल कब्जे में ले ली गई है। इस मामले में परिजनों ने कोई तहरीर नहीं दी है।बेटे को अलमारी की चाबी देने के बाद मां अभी रसोई में पहुंची ही थी कि अचानक गोली चलने की आवाज से घबरा गई। बेटी के साथ वापस कमरे में पहुंची तो बेटा जहांगीर वहां नहीं था। इस दौरान बेटे की पुकार सुनकर वह टॉयलेट के पास पहुंची तो करीब दस मिनट की मशक्कत के बाद गेट तोड़ा गया। बेटे को खून से लथपथ देखकर मां बिलख पड़ी। बोली बेटा! तूने यह क्या कर लिया। इस दौरान परिवार के लोगों को रो रोकर बुरा हाल था।

loading...
शेयर करें