आईटी में होंगी वर्ल्ड ट्रेड सेंटर जैसी Facilities

World_Trade_Center_South_Tower_lobby_interiorलखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी में चौधरी चरण सिंह हवाईअड्डे के पास औद्योगिक क्षेत्र में सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) पार्क की स्थापना होगी। 30-35 एकड़ में प्रस्तावित आईटी पार्क से लोगों को सूचना प्रौद्योगिकी की बेहतर सेवाएं मिल सकेंगी। बताया गया है कि आईटी पार्क में वल्र्ड ट्रेड सेंटर जैसी अंतर्राष्ट्रीय स्तर की सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। यूपी इलेक्ट्रॉनिक्स कॉरपोरेशन लिमिटेड आईटी पार्क की स्थापना करेगा। इलेक्ट्रॉनिक्स कारपोरेशन ने आईटी पार्क के लिए कम से कम 30-35 एकड़ जमीन नि:शुल्क देने की मांग की थी।

एलडीए व आवास एवं विकास परिषद ने सीजी सिटी में नि:शुल्क भूमि देने से इनकार कर दिया है। पूर्व में सीतापुर रोड स्थित वसंतकुंज योजना में आईटी पार्क की जमीन का चिह्नंकन किया गया था। लेकिन भूमि की उपलब्धता न होने पर इस प्रस्ताव को निरस्त कर दिया गया था। एचसीएल आईटी सिटी, लखनऊ के विकास के देखते हुए अन्य एमएसएमई आईटी व आईटीईएन कंपनियों ने सीजी सिटी के आस-पास भूमि की मांग की थी। सीजी सिटी में एलडीए की लगभग 15-20 एकड़ भूमि उपलब्ध है।

इसी प्रकार अवध बिहार आवास योजना के पास एमिटी इंटरनेशनल से सटी भूमि के लिए आवास एवं विकास परिषद से मांग की गई। लेकिन एलडीए व आवास विकास ने निशुल्क भूमि देने से इनकार कर दिया। लगभग 40 एकड़ भूमि के लिए यूपी इलेक्ट्रॉनिक्स के सामने कामर्शियल रेट से 20-22 हजार करोड़ रुपये का प्रस्ताव रखा गया था। एलडीए व आवास एवं विकास परिषद की न के बाद एयरपोर्ट क्षेत्र में उत्तर प्रदेश औद्योगिक विकास क्षेत्र में यूपीडीआईपीएल की भूमि पर आईटी पार्क की स्थापना के लिए सहमति बनी है।

प्रदेश के शहरों को आईटी क्षेत्र में अग्रणी करने के लिए कार्ययोजना बनाई गई थी। 21 जुलाई, 2014 को शासन के आदेश पर इस बात की घोषणा की थी, जिसमें सभी विकास प्राधिकरणों में आईटी पार्क की स्थापना की जाएगी। इसके तहत यूपी इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड को नोडल संस्था बनाया गया है। पार्क की स्थापना के लिए शासन से मार्गदर्शिका का भी अनुमोदन किया जा चुका है। सूचना प्रौद्योगिकी, व्यावसायिक संस्थाओं एवं अन्य संस्थाओं के अनुसार 30-35 एकड़ में अत्याधुनिक एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आईटी पार्क की स्थापना की जानी है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button