IPL
IPL

सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच भीषण Encounter, एक महिला कमांडर सहित कई ढेर

रायपुर: छत्तीसगढ़ के बीजापुर इलाके में आज रविवार को सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच भीषण मुठभेड़ (Encounter) हुई है। इस मुठभेड़ में एक महिला माओवादी कमांडर समेत 12 माओवादियों को सुरक्षाकर्मियों ने ढेर कर दिया है। सिर्फ इतना ही नहीं इसके अलावा 16 से अधिक माओवादी नक्सली गंभीर रूप से घायल हो गए है। वहीं इस भीषड़ मुठभेड़ (Encounter) में डीआरजी-8, एसटीएस-6, कोबरा-7 के अलावा बस्तर बटालियन का 1 जवान भी शहीद हुए हैं। वहीं 31 जवान घायल और 13 जवान गंभीर रूप से घायल हुए हैं। इन सभी घायल जवानों को इलाज के लिए एयरलिफ्ट करके रायपुर भेजा गया है।

कई माओवादी नक्सली हुए ढेर

जानकारी के मुताबिक, बीजापुर इलाके में रविवार को लंबे समय तक सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच भीषड़ मुठभेड़ हुई है। अगर इस मुठभेड़ कई माओवादी नक्सलियों को ढेर व घायल किया है तो कई जवान शहीद हुए और कई अधिक घायल हुए है। इस मुठभेड़ में मारी गई माओवादी महिला की पहचान पामेड़ एलजीएस कमांडर माड़वी वनोजा के रूप में हुई है। इसके पास से इंसास रायफल भी बरामद हुआ है। मारे गए सभी माओवादियों के शव और घायलों को उनके साथी दो-तीन ट्रैक्टरों में भरकर ग्राम जब्बामरका और गोमगुड़ा इलाके की तरफ फरार हो गए है।

ये भी पढ़ें : खुशखबरी…खुशखबरी, Corona Vaccine की दोनों डोज लेने वाले लोगों को मिलेगा गिफ्ट

कोबरा 210 जवान का नहीं चला पता

पुलिस ने बताया है कि इस मुठभेड़ में बड़ी सफलता तो हासिल हुई लेकिन बहुत दुःख भी हुआ है कि डीआरजी-8, एसटीएस-6, कोबरा-7 और बस्तर बटालियन का 1 जवान शहीद हुए हैं, वहीं 31 जवान घायल और 13 जवान गंभीर रूप से घायल हुए हैं। गंभीर रूप से घायल जवानों को इलाज के लिए एयरलिफ्ट कर रायपुर के रामकृष्ण अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बाकि 18 घायल जवानों को इलाज के लिए जिला अस्पताल बीजापुर में भेजा गया है। इसके अलावा ये भी खबर आ रही है कि कोबरा 210 जवान राकेश्वर सिंह मनहास का कुछ पता नहीं चल रहा है, उनकी तलाश की जा रही है। इस हमले में घायल हुए जवानों से मिलने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अस्पताल जाएंगे।

ये भी पढ़ें : Petrol-Diesel और LPG के जल्द घटेंगे दाम: केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री

Related Articles

Back to top button