फीफा विश्व कप : डेनमार्क और ऑस्ट्रेलिया के बीच मैच हुआ ड्रा

समारा। डेनमार्क और आस्ट्रेलिया के बीच गुरुवार को समारा एरीना में खेला गया फीफा विश्व कप का ग्रुप-सी का मैच 1-1 से ड्रॉ रहा। आस्ट्रेलिया के पास अब अंतिम ग्रुप मैच जीतकर नॉक आउट में कदम रखने का मौका बना हुआ है। इस मैच में डेनमार्क के लिए क्रिस्टियन एरिकसन ने गोल किया, वहीं आस्ट्रेलिया के लिए कप्तान मिले जेडिनाक ने पेनाल्टी पर गोल किया। डेनमार्क के खाते में चार अंक हैं। उसने अपना पहला मैच पेरू के खिलाफ 1-0 से जीता था।

मैच की शुरुआत में ही अपना दबदबा बनाए रखते हुए डेनमार्क ने सातवें मिनट में गोल कर खाता खोला। निकोलाई जोर्गेनसन ने फारवर्ड लाइन में घुसकर इसे क्रिस्टियन एरिकसन को पास कर दिया। एरिकसन ने बाईं ओर से शॉट मारकर इसे आस्ट्रेलिया के गोल पोस्ट पर पहुंचाया। यह एरिकसन की ओर से डेनमार्क के लिए खेले गए 20वें मैच का 17वां गोल था।

आस्ट्रेलिया को इस बीच फ्री किक पर गोल करने के तीन मौके मिले, लेकिन वह एक भी मौके को भुना पाने में असफल रहा। उसके लिए डेनमार्क के डिफेंस को भेदना मुश्किल साबित हो रहा था।

डेनमार्क के लिए 20वें मिनट में पिओने सिस्टो ने 32 यार्ड के बाहर से लंबा शॉट मारकर गोल करने की कोशिश की, लेकिन आस्ट्रेलिया के गोलकीपर मैथ्यू रेयान से इसे सेव कर दिया। अगले दो मिनट में एक बार फिर टीम आस्ट्रेलिया के गोल पोस्ट तक पहुंची और जोर्गेनसन ने छह यार्ड से हेडर शॉट के जरिए गोल करना चाहा, लेकिन गेंद नेट के किनारे से होकर बाहर चली गई।

आस्ट्रेलिया को 34वें मिनट में चौथा कॉर्नर मिला था। इस पर गोल दागने की कोशिश कर रही टीम के खिलाड़ी को डेनमार्क के युसुफ यूरेरी ने धक्का दिया। इस पर वीएआर लेने पर आस्ट्रेलिया को पेनाल्टी पर गोल करने का शानदार अवसर मिला और कप्तान मिले जेडिनाक ने गोल कर टीम का स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया।

अपने पहले मैच में पेरू को 1-0 से हराने वाली डेनमार्क दबाव में आ गई थी। 40वें मिनट में उसे कॉर्नर मिला। एरिकसन ने शॉट मारकर इसे अपने खिलाड़ियों की तरफ पास किया, लेकिन गोलकीपर रेयान ने इसे सेव कर डेनमार्क को बढ़त नहीं लेने दी। ऐसे में पहले हाफ के समापन तक दोनों टीमें 1-1 से बराबरी पर रहीं।

दूसरे हाफ की शुरुआत तक दोनों टीमों के बीच फुटबाल के लिए खींचा तानी चलती रही। एक-दूसरे की फारवर्ड लाइन तक पहुंचने के बाद दोनों ही टीमों खिलाड़ी एक-दूसरे से फुटबाल छीनकर किसी प्रकार का अवसर नहीं दे रहे थे।

Related Articles