सीटों के बंटवारे को लेकर एनडीए में मचा महासंग्राम, जदयू ने किया बड़ा ऐलान

0

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 की तारीख जैसे जैसे करीब आ रही है, केंद्र की सत्तारूढ़ भाजपा नीत एनडीए और एकजुट नजर आ रही विपक्ष दोनों जगह सीटों के बंटवारे को लेकर गहमागहमी का माहौल बना हुआ है। इन्ही सीटों के बंटवारे को लेकर अब बिहार की सत्ताधारी जनता दल यूनाइटेड (जदयू) ने एक बड़ा बयान दिया है। दरअसल, जदयू ने ऐलान किया है कि बिहार में जदयू बड़े भाई की भूमिका में नजर आएगी।

मिली जानकारी के अनुसार, रविवार शाम पटना में जदयू कोर कमेटी की बैठक हुई। इस बैठक में इस बात पर रजामंदी जाहिर की गई कि बिहार में नीतीश कुमार को एनडीए का प्रमुख चेहरा बनाया जाएगा। बैठक में निश्चित किया गया कि अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव में जदयू बिहार की 25 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी जबकि भाजपा को 15 सीटें दी जाएगी।

रविवार शाम को हुई जदयू की इस बैठक में पार्टी के महासचिव केसी त्यागी, पवन वर्मा और पार्टी के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर समेत कई वरिष्ठ नेताओँ ने शिरकत की।

बैठक के बाद एक न्यूज एजेंसी से बातचीत करते हुए जदयू नेता अजय आलोक ने एएनआई से बात करते हुए बताया कि सीटों के बंटवारे को लेकर जदयू में कोई असमंजस की स्थिति नहीं है। हम 25 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे और भाजपा 15 सीटों पर। चूंकि अब कई और सहयोगी भी गठबंधन के साथ जुड़ चुके हैं, ऐसे में सीटों के बंटवारे पर शीर्ष नेता तय करेंगे। अजय आलोक ने कहा कि बिहार में एनडीए का चेहरा नीतीश कुमार होंगे।

उधर, जदयू नेता के इस बयान को लेकर राजद नेता और लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव ने तंज कसा है। तेजस्वी यादव ने सेटों के इस बंटवारे को आड़े हाथों लेते हुए ट्वीट किया है कि सुशील मोदी बताएं क्या नीतीश जी बिहार में नरेंद्र मोदी से बड़े व ज्यादा प्रभावशाली नेता हैं? नीतीश जी के प्रवक्ता सुशील मोदी क्या अब भी जेडीयू के हाथों अपने सबसे बड़े नेता को बेइज्जत कराते रहेंगे? नीतीश जी ने कहा था कि उन्होंने सुशील मोदी के कहने से भोज से मोदी की थाली खींची थी।

loading...
शेयर करें