फिल्म ‘मुल्क’ को नहीं मिली पाकिस्तान में प्रदर्शित करने की अनुमति

मुंबई| फिल्मकार अनुभव सिन्हा ने प्रगतिशील विचारों वाले इमरान खान के पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनने के बाद वहां हालात बेहतर होने की उम्मीद जताई है। उनकी फिल्म ‘मुल्क’ को पाकिस्तान में प्रदर्शन की अनुमति नहीं मिली है। सिन्हा ने कहा कि ‘मुल्क’ हिंदुओं और मुसलमानों के बीच की एक प्रेम कहानी है।

यहां एक कार्यक्रम में एक फिल्म का प्रचार करने आए अनुभव ने पाकिस्तान में फिल्म पर प्रतिबंध पर बात की। उन्होंने कहा, “मैं आश्चर्यचकित हूं कि मेरी फिल्म को पाकिस्तान में प्रतिबंधित क्यों किया गया। मैं चाहता था कि पाकिस्तान के लोग फिल्म देखें और निर्णय लें कि क्या उनकी सरकारें हमारे साथ दोस्ती नहीं करना चाहतीं।”

उन्होंने कहा, “वे हमें सौहार्द और सह अस्तित्व की बात नहीं करने देना चाहते, क्योंकि उनके घर इन्हीं मुद्दों पर चलते हैं और लोगों को ये समझना होगा। मैं वास्तव में जानना चाहता हूं कि पाकिस्तान में मेरी फिल्म पर प्रतिबंध क्यों लगा है, क्योंकि मेरी फिल्म भाषा का कोई मुद्दा नहीं है, धर्म का मुद्दा नहीं है, इसमें समाज के बारे में बुरा नहीं कहा गया और पाकिस्तान के बारे में गलत नहीं कहा गया।”

उन्होंने कहा, “फिल्म में कुछ व्यक्तियों की आलोचना हुई है, और आप अगर यह सहन नहीं कर सकते, मैं नहीं जानता कि क्या करना चाहिए।”

Related Articles