फिल्म में दिखेगी पीयूष जैन की कहानी, फिल्म निदेशक ने किया ये ऐलान

पीयूष जैन पर लिखी जाएगी फिल्मी स्क्रिप्ट

बॉलीवुड में बहुत सी फिल्में रियल लाइफ के इंसीडेंट्स को लेकर बनाई जाती हैं. इन फिल्मों को लोग इसलिए देखना पसंद करते हैं ताकि असल में हुई घटना को एक बार फिर से देख और समझ सकें. 2016 में राजकुमार गुप्ता निर्देशित एक फिल्म आई थी ‘रेड‘. यह फिल्म कानपुर के एक इनकम टैक्स छापे पर बनी थी, इसे कानपुर के इतिहास का सबसे लंबा छापा कहा जाता है क्योंकि यह रेड दो रात तीन दिन तक चली थी.

पीयूष जैन पर लिखी जाएगी फिल्मी स्क्रिप्ट

अब एक बार फिर फिल्मी स्क्रिप्ट की तरह यूपी का एक मामला सामने आया है. यहां के इत्र व्यापारी पीयूष जैन के घर इनकम टैक्स का छापा पड़ा है और जिस ​तरह से इस केस की एक के बाद एक परतें खुल रही हैं, उसे देखकर कहा जा सकता है कि यह कहानी भी पूरी फिल्मी है. इसमें कोई आश्चर्य नहीं होगा यदि बॉलीवुड के किसी निर्देशक की नजर इस स्क्रिप्ट पर पड़ जाए.

1980 में भी कानपुर में पड़ी थी एक रेड

अजय देवगन अभिनीत फिल्म के प्लॉट की काफी तारीफ हुई थी और इसके फिल्मांकन को काफी सराहा गया था. यह फिल्म लखनऊ के डिप्टी कमीश्नर ऑफ इनकम टैक्स पर आधारित थी. यह फिल्म 1980 में कानपुर में हुई सबसे बड़ी रेड पर आधारित थी. यह रेड कांग्रेस एमएलए सरदार इंद्र सिंह के यहां पड़ी थी. इस रेड में करीब 420 करोड़ की राशि का काला धन और सोना मिला था. अफसरों ने घर में विभिन्न जगहों से धन खोजा था और यह रेड सबसे लम्बी चली थी. बताया जाता है कि इस रेड में मिले धन को गिनने के लिए 45 लोग की टीम लगी थी. साथ ही करीब इनकम टैक्स अफसरों की सुरक्षा के लिए 200 पुलिस वाले भेजे गए थे.

Related Articles