आखिरकार एक हुए AIADMK के दोनों धड़, नए नारे के साथ किया विलय का ऐलान

0

नई दिल्ली। तमिलनाडु की राजनीति के लिए आज एक बहुत बड़ा दिन है। आज AIADMK के दोनों ग्रुप एक हो गए हैं। इसी सिलसिले में तमिलनाडु और महाराष्ट्र के गवर्नर विद्यासागर राव भी चेन्नई पहुंचे हुए हैं। AIADMK के दफ्तर में ई. पलानीस्वामी और ओ. पन्नीरसेल्वम ने विलय का ऐलान किया। पन्नीरसेल्वम पार्टी के संयोजक होंगे, वहीं पलानीस्वामी को सह-सयोंजक बनाया गया है।

शशिकला को पार्टी से औपचारिक रूप से निष्कासित करने पर आज हो सकता है फैसला

सूत्रों के मुताबिक, सोमवार को अमावस्या है और इस दिन को बेहद पवित्र माना जाता है लिहाजा इस बात की प्रबल संभावना है कि विलय समझौते पर मुहर लग जाए।

सूत्रों के मुताबिक, सोमवार को पार्टी मुख्यालय में एक बैठक हो सकती है, जिसमें मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी गुट वीके शशिकला को पार्टी से औपचारिक रूप से निष्कासित करने के सवाल पर फैसला ले सकता है। पन्नीरसेल्वम ने भी पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘विलय का हमारा उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि पार्टी किसी एक परिवार के चंगुल में फंसकर न रह जाए।’

पार्टी के एक धड़े का नेतृत्व पन्नीरसेल्वम कर रहे हैं, वहीं दूसरे खेमे के नेता मुख्यमंत्री पलानीस्वामी हैं। उन्होंने पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘मुझे बताया गया है कि विलय के लिए बातचीत आगे बढ़ रही है। यह एक और चरण आगे बढ़ चुकी है, जल्दी ही एक अच्छा फैसला हो जाएगा, जैसा आप चाहते हैं।’

 AIADMK को वापस मिल जाएगा चुनाव चिन्ह

18 अगस्त को दोनों गुट विलय के करीब थे और मरीना बीच पर दिवंगत मुख्यमंत्री जे. जयललिता के स्मारक पर किसी घोषणा की उम्मीद की जा रही थी, लेकिन अंतिम क्षणों में पैदा हुई जटिलताओं के कारण इसमें देर हो गई। विलय की स्थिति में एआईएडीएमके को अपना चुनाव चिन्ह ‘दो पत्तियां’ वापस मिल जाएगा। लेकिन लगता है जो काम उस दिन अधूरा रह गया था वो आज पूरा हो जाएगा।

loading...
शेयर करें