किसानो के खिलाफ दर्ज मुक़दमा, लेखपाल सहित तीन अधिकारी निलंबित

पराली जलाने पर किसानो पर जुर्माना, लेखपाल सहित तीन अधिकारी निलंबित

औरैया: उत्तर प्रदेश के औरैया जिले में पराली जलाने के मामले में किसानो के खिलाफ मुक़दमा दर्ज किया गया है। बता दें कि औरैया जिले के बिधूना क्षेत्र में गुरुवार को पराली जलाने की घटना की जानकारी मिलने पर किसानो के खिलाफ मुक़दमा दर्ज किया गया है। वहीं सचिव, लेखपाल, प्रावधिक सहायक और बीट सिपाही को निलंबित किया गया है।

सेटेलाइट से देखी गई पराली जलने की घटना

कृषि उपनिदेशक विजय कुमार ने बताया कि आल ओवर इंडिया सेटेलाइट द्वारा जिले का स्पाट देखा गया तो बिधूना क्षेत्र की रूरूगंज चौकी के गांव चंदैया में पराली जलाये जाने की घटना सामने आई। जब जिलाधिकारी अभिषेक सिंह को मामले की सूचना मिली तो उन्होंने मामले की जांच के लिये भूमि संरक्षण अधिकारी व एसडीओ उप सम्भागीय कृषि अधिकारी राजेश कुमार रावत, उपनिदेशक कृषि विजय कुमार व क्षेत्रीय लेखपाल सरिता देवी को पराली जलने वाले स्थान पर भेजा।

7500 का जुर्माना साथ ही मुक़दमा भी दर्ज

चंदैया गांव में एक खेत की मेड़ पर निरिक्षण के दौरान मौके पर कुछ घास जली हुई मिली। जिसके जवाब में कृषकों को बुलाकर पूछताछ की, जिन्होंने फसल अवशेष जलाने की बात नकारते हुए घांस-फूस जलाने का हवाला दिया। जिसके बाद क्षेत्रीय लेखपाल सरिता देवी द्वारा बिधूना थाने में किसान गंगाराम पुत्र ज्ञानसिंह, रामसनेही पुत्र गुलाबसिंह व बिक्रम सिंह पुत्र गंगाराम पर 75 सौ रुपए का जुर्माना लगाया गया। साथ ही पराली जलाने के मामले में मुक़दमा भी दर्ज कराया गया।

लेखपाल सहित तीन अधिकारी निलंबित

कृषि उपनिदेशक ने बताया कि पराली जलाने की घटना को सही पाये जाने पर जिलाधिकारी द्वारा ग्राम पंचायत सचिव, क्षेत्रीय लेखपाल, प्रावधिक सहायक व बीट सिपाही को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। इसके अतिरिक्त प्रधान पर पंचायती राज अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है। इसके बाद रुरुगंज के प्रभारी चौकी इंचार्ज नरेंद्र कुमार ने गांव गांव जाकर किसानों को खेत में बचे हुए फसल अवशेष न जलाने की हिदायत दी गयी।

ये भी पढ़ें: ‘ड्रीम गर्ल’ हेमा मालिनी का आज 72वां जन्मदिन, ऐसे मिली फिल्म इंडस्ट्री में पहचान

Related Articles