पाकिस्तान के मंसूबो पर फिरा पानी, RSS के कई बड़े नेताओं की हत्या की साजिश नाकाम

0

नई दिल्लीः पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ के लिए काम करने वाले तीनों शार्प शूटरों को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पदाधिकारियों और दक्षिण भारत के दो नेताओं की हत्या करने के लिए चार करोड़ रुपये की सुपारी दी गई थी। जो अब दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल द्वारा गिरफ्तार कर लिए गए हैं। इन्हे करीब 15 लाख रुपये अग्रिम राशि के रूप में दे दिया गए थे, जबकि बचे हुए रुपये काम पूरा होने पर मिलने थे। उनके लिए होटल बुक कराने के अलावा चार मोबाइल फोन और चार सिम भी उपलब्ध करवा दिए गए। सभी सिम फर्जी पते पर प्राप्त किए गए थे।

यहां बता दें कि इन तीनों शार्प शूटरों को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने करीब ढाई महीने तक नजर रखने के बाद गिरफ्तार किया था। एक की पहचान अफगानिस्तान के मजार-ए-शरीफ निवासी वली मोहम्मद, दूसरे की दिल्ली के मदनगीर निवासी शेख रियाजुद्दीन और केरल के कासरगौड निवासी मुहतासिम सीएम उर्फ थस्लीम के रूप मे हुई है। मुहतासिम को केरल और अन्य दोनों को दिल्ली से पकड़ा गया था।

सूत्रों के मुताबिक, उन्हें गणतंत्र दिवस से पूर्व वारदात को अंजाम देना के लिए भेजा गया था पूछताछ में आरोपितों ने यह स्वीकार किया है। अंडरवल्र्ड डॉन रसूल खान जो कि पाकिस्तान में बैठे थे, ने होटल बुक कराने के अलावा उनकी मदद के लिए चार लोगों को लगाया था। रेकी पूरी होते ही नेताओं की हत्या कर अंडरग्रांउड होने की योजना थी।

आरोपितों से जानकारी मिलने के बाद से ही पुलिस ने शार्प शूटरों की मदद करने वाले चारों व्यक्तियों की तलाश शुरू कर दी है। कर्नाटक और केरल की जांच एजेंसियों से भी इसके लिए सहयोग लिया जा रहा है। यह भी पता खोजा जा रहा है कि होटल किसने बुक करवाया था और रुपये किस माध्यम से अदा किए गए थे। ऑपरेशन का मास्टर माइंड पाकिस्तान में बैठा अंडरवल्र्ड डॉन रसूल खान था। तीनों शार्प शूटर मुहतासिम के जरिए उसके संपर्क में थे।

loading...
शेयर करें