फ्लोरिडा स्कूल गोलीबारी के पीड़ितों की बंदूक कानून पर सख्ती की मांग

0

मियामी| फ्लोरिडा हाईस्कूल गोलीबारी की घटना के पीड़ितों ने देश में बंदूक कानूनों को सख्त करने की मांग की है और साथ ही मतदाताओं से इस कदम का विरोध करने वाले सांसदों को पद से हटाने का भी आग्रह किया है। ‘सीएनएन’ के अनुसार, फोर्ट लॉडरडेल में शनिवार को एक भावनात्मक रैली में पार्कलैंड के मार्जरी स्टोनमैन डगलस हाईस्कूल (जहां 14 फरवरी को नरसंहार हुआ था) की वरिष्ठ छात्रा एमा गोंजालेज ने मांग की कि देश के सांसदों को स्कूलों में गोलीबारी को रोकने के लिए कुछ करना चाहिए।

फ्लोरिडा हाईस्कूल गोलीबारी

इस घटना के दौरान एमा ऑडिटोरियम में छुप गई थीं। फेडरल कोर्टहाउस के बाहर एक रैली में एमा ने कहा, “हम यह समझ नहीं पाते हैं कि दोस्तों के साथ सप्ताहांत की योजनाओं को बनाना एक स्वचालित या अर्धआधुनिक हथियार खरीदने की तुलना में क्यों कठिन है।”

उन्होंने नेशनल राइफल एसोसिएशन (एनआरए) से चुनाव अभियान में चंदा लेने वाले राजनीतिज्ञों को संबोधित करते हुए कहा, “आपको शर्म आनी चाहिए।”

इसके बाद रैली में मौजूद सैकड़ों लोगों ने चिल्लाना शुरू कर दिया, “शर्म करो, शर्म करो।”

एमा ने कहा, “एनआरए द्वारा वित्तपोषित अपने सोने के महलों में रहने वाले और सीनेट सीटों पर बैठे राजनेता हमसे कहते हैं कि वे कुछ भी नहीं कर सकते। यह बकवास है। वे कहते हैं कि बंदूकों पर सख्त कानून हिंसा को बंद नहीं कर सकता। हम इसे बकवास मानते हैं।”

फ्लोरिडा के हाईस्कूल में 19 वर्षीय पूर्व छात्र निकोलस क्रूज द्वारा की गई गोलीबारी में 17 लोगों की मौत हो गई थी। क्रूज की सोमवार को सुनवाई होगी।

loading...
शेयर करें