फ्लाइंग सिख Milkha Singh कह गए अलविदा साथियों, अंतिम इच्छा होगी पूरी

भारत के महान धावक, फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह ने 91 साल की उम्र में 18 जून को रात 11: 30 बजे चंडीगढ़ के PGI अस्पताल में ली अंतिम सांस

चंडीगढ़: भारत के महान धावक फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह (Milkha Singh) ने 91 साल की उम्र में 18 जून को रात 11: 30 बजे चंडीगढ़ के PGI अस्पताल में ली अंतिम सांस और कह गए अलविदा साथियों।  मिल्खा सिंह COVID-19 से संकमित थे। धीरे-धीरे रिकवर भी हो रहे थे। लेकिन अचानक ऑक्सीजन लेवल गिरने के कारण वो जिंदगी की रेस हार गए। वो पूरी बहादुरी के साथ कोरोना से लड़े आखिरी समय तक हिम्मत नहीं हारे। चंडीगढ़ PGI के डॉक्टरों ने उनका बहुत ही अच्छे से इलाज किया देख भाल की। उन्हें बचाने के लिए डॉक्टरों ने बहुत कोशिश की लेकिन बचा ना सके।

मिल्खा सिंह के गुजर जाने पर उनके परिवार ने बताया अत्यंत दु:ख के साथ सूचित किया जा रहा है कि मिल्खा सिंह जी का निधन हो गया। उन्होंने बहुत संघर्ष किया लेकिन भगवान के अपने तरीके हैं और शायद यह सच्चा प्यार और साथ था कि हमारी मां निर्मल जी और अब पिताजी दोनों का निधन 5 दिनों में हो गया है।

किरेन रिजिजू करेंगे आखिरी सपना पूरा

पूर्व भारतीय धावक मिल्का सिंह के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू (Kiren Rijiju) ने ट्वीट कर बोले मैं आपसे वादा करता हूं मिल्खा सिंह जी कि हम आपकी अंतिम इच्छा को पूरा करेंगे। भारत ने अपना सितारा खो दिया है। मिल्खा सिंह जी हमें छोड़ गए हैं लेकिन वह हर भारतीय को चमकने के लिए प्रेरित करते रहेंगे। भारत के लिए।

PM मोदी ने जताया दुख

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने महान धावक मिल्खा सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया, उन्होंने दुख जताते हुए बोला हमने एक महान खिलाड़ी खो दिया है, जिसने देश की कल्पना पर कब्जा कर लिया और भारतीयों के दिलों में विशेष स्थान था। उनके प्रेरक व्यक्तित्व ने खुद को लाखों लोगों के लिए प्यार किया।

पीएम मोदी ने बताया किअभी कुछ दिन पहले ही मेरी श्री मिल्खा सिंह जी से बात हुई थी। मुझे नहीं पता था कि यह हमारी आखिरी बातचीत होगी। कई नवोदित एथलीट उनकी जीवन यात्रा से ताकत हासिल करेंगे। उनके परिवार और दुनिया भर में कई प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदनाएं।

अमित शाह हुए भावुक

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने महान भारतीय धावक मिल्खा सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया, “उन्होंने विश्व एथलेटिक्स पर एक अमिट छाप छोड़ी है। राष्ट्र उन्हें हमेशा भारतीय खेलों के सबसे चमकीले सितारों में से एक के रूप में याद रखेगा। उनके परिवार और अनगिनत अनुयायियों के प्रति गहरी संवेदना”

 

यह भी पढ़ेयूपी में COVID मामलो की संख्या 500 से अधिक होने पर लग जाएगा लॉकडाउन

Related Articles