प्रदेश में कोहरे ने थामी रफ्तार, ठंड से सजा गर्म कपड़ों का व्यापार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में सर्द हवाओं के तल्ख मिजाज के बीच घने कोहरे ने आम जनजीवन पर प्रभाव डालना शुरू कर दिया है। पश्चिम से पूरब तक राज्य के कई इलाकों में घने कोहरे ने वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक लगाया है। ठंड के तीखे तेवरों ने गर्म कपड़ों के बाजार में रौनक ला दी है। राजधानी लखनऊ, कानपुर, फतेहपुर, फिरोजाबाद, सोनभद्र और उन्नाव समेत कई इलाकों में कोहरे की वजह से गुरूवार रात विसिबिलिटी का स्तर 10 मीटर से कम रहा जिससे सड़कों पर वाहन रेंग रेंग कर चले।

घने कोहरे के चलते हुए हादसे

कोहरे के चलते फिरोजाबाद के सिरसागंज क्षेत्र में हुए सड़क हादसे में एक परिवार के तीन सदस्यों की मौत हो गई। जबकि दो अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए वहीं सोनभद्र में बारातियों से भरे एक वाहन के पेड़ से टकराने से 12 से अधिक लोग घायल हो गए।

तापमान में गिरावट रहेगी जारी

मौसम विभाग के अनुसार तापमान में गिरावट का दौर फिलहाल जारी रहने के आसार है। पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से अगले कुछ दिनों में पहाड़ी क्षेत्रों में वर्षा और हिमपात का अनुमान है जिसका प्रभाव उत्तर प्रदेश के मैदान इलाकों में भीषण ठंड के रूप में देखने को मिलेगा। इस दौरान रातें और सर्द होंगी। जबकि दिन में कोहरे के बीच तापमान में गिरावट देखी जा सकती है।

ठंड की वजह से गर्म कपड़ों से सजीं मार्केट

ठंड की वजह से लखनऊ समेत अन्य जिलों में गर्म कपड़ों की खरीददारी जोर पकड़ने लगी है। लखनऊ के हजरतगंज, अमीनाबाद, चौक और इंदिरानगर में कपड़ा व्यवसाइयों ने गर्म कपड़ों का पर्याप्त भंडारण कर रखा है। दुकानदारों का कहना है कि कोराना काल में व्यापार में आई गिरावट की भरपाई सर्द मौसम में हो सकने की उम्मीद है। हालांकि अभी ग्राहकों की भीड़ का उमड़ना आशा के अनुरूप नहीं हो सका है।

यह भी पढ़ें: Corona update: लोगों के चेहरे पर खिली मुस्कान, देश में कोरोना के सक्रिय मामलों में लगातार गिरावट

Related Articles

Back to top button