कई साल से सेना का खून गर्म हो रहा था, पिछली सरकारों ने नीति नहीं सिर्फ गृहमंत्री बदले: मोदी

0

ग्रेटर नोएडा: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को ग्रेटर नोएडा पहुंचे। एयर स्ट्राइक पर मोदी ने कहा कि कई साल तक सेना का खून गर्म होता रहा, लेकिन पिछली सरकारों ने नीति बदलने की बजाय सिर्फ गृहमंत्री बदले। यह भी कहा कि आप यहां मोदी-मोदी के नारे लगा रहे हैं और वहां कुछ लोगों (विपक्ष) की नींद हराम हो रही है।

मोदी ने ग्रेटर नोएडा में दीनदयाल उपाध्याय पुरातत्व संस्थान का उद्घाटन किया। संस्थान परिसर में पं. दीनदयाल की मूर्ति का भी अनावरण किया। मोदी ने मेट्रो के विस्तार का भी उद्घाटन किया। साथ ही बुलंदशहर में खुर्जा के नजदीक स्थापित होने वाले थर्मल पावर प्लांट की आधारशिला रखी। बिहार के बक्सर में स्थापित होने वाले 1320 मेगावॉट क्षमता के थर्मल पावर प्लांट का शिलान्यास भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए किया।

पाक की नींद खत्म हो गई

मोदी ने कहा कि अब मजा देखिए हम तो साहब यह (एयर स्ट्राइक) कर के चुप थे। देश को क्यों जगाना भाई। लेकिन यह घटना इतनी बड़ी थी कि रात 3:30 बजे पाक की नींद खत्म हो गई। हम तो चुप थे हम सोच रहे थे क्या होता है देखते हैं कि सुबह पांच बजे उसने ट्वीट कर कहना शुरू कर दिया- मोदी ने मारा, मोदी ने मारा। सर्जिकल स्ट्राइक हुआ था तब हमने देश को खबर की थी, लेकिन इस बार वही रोने लगे।

“वे (पाक) पहले समझते थे कि भारत के साथ प्रॉक्सी वॉर करते जाओ। उसे घाव दिए जाओ। पिछली सरकार के रवैये के चलते उनकी हिम्मत पड़ जाती थी। 26/11 हमले में भी ऐसा हो सकता था। लेकिन इसके (कार्रवाई) लिए दम चाहिए दोस्तो। 26/11 में भी आतंकियों के खिलाफ सारे सबूत मौजूद थे। लेकिन उन्होंने क्या किया। खबरें यह थी कि सेना, वायुसेना, नौसेना बदला लेना चाह रही था, लेकिन उधर से कुछ नहीं हुआ। सेना का खून गर्म हो रहा था, लेकिन नई दिल्ली (सरकार) ठंडे बिस्तर पर पड़ा था। इसी वजह से 2008 के बाद भी आतंकी घटनाएं होती रहीं। इन हमलों के तार भी सीमापार से जुड़े हुए थे। लेकिन पिछली सरकारों ने अपनी नीति नहीं सिर्फ गृहमंत्री बदले।”

छोटे काम नहीं करता
मोदी ने कहा- आज हमने वन नेशन-वन ग्रिड का सपना पूरा किया है। मैं न तो छोटे सपने देखता हूं और न ही छोटे काम करता हूं। हमारा सपना वन वर्ल्ड, वन सन, वन ग्रिड का है। कभी न कभी यह साकार होने वाला है। 1950 से लेकर 2014 तक करीब-करीब 65 सालों में लगभग 2.5 लाख मेगावाट की क्षमता विकसित की गई। बीते 5 सालों में हमने 1 लाख मेगावाट से अधिक कैपेसिटी तैयार की है। अब आप सोचिए, पुराने थके हुए लोगों से देश चलता तो कहां गया होता। कितने दशक बीत जाते, लेकिन नया भारत नई रफ्तार से आगे बढ़ रहा है।

“बरसों तक पावर सेक्टर की उपेक्षा किए जाने से पावर डिस्ट्रीब्यूशन बेकार हो गया। जितनी बिजली पैदा हो रही थी उतनी लोगों को मिल नहीं रही थी। अब देश में यह स्थिति सुधर रही है। हमारी सरकार ने देश के हर गांव में बिजली पहुंचाने के लिए लक्ष्य को पूरा किया है। अब तक जो 2.5 करोड़ परिवार अंधेरे में जी रहे थे, उनके घर में हमने उजाला पहुंचाया।”

मोदी ने डंडा चलाया, बिचौलिए खत्म हो गए
मोदी ने कहा कि हमने पावर के लिए आधुनिक तरीके भी अपनाए। यह लोगों का बिजली बिल बचाते हैं। सरकार के प्रयास की वजह से एलईडी बल्ब जो फरवरी 2014 में तीन-साढ़े तीन सौ रुपए मिलता था। मेरे आने के बाद 40 रुपए हो गया। ऐसा इसलिए क्योंकि तब हर जगह बिचौलिए बैठे थे। मोदी ने डंडा चलाया और सभी बिचौलिए खत्म हो गए। दलाल जब मेरे खिलाफ खेल खेलेंगे तो मेरी रक्षा कौन करेगा। यह सवा सौ करोड़ देशवासी करेंगे। अब तक सरकारी और प्राइवेट कंपनियों ने देश में 150 करोड़ बल्ब वितरित किए हैं। देश के नागरिकों की जेब में हर साल 50 हजार करोड़ रुपए बच रहा है।

ग्रेटर नोएडा की पहचान बदली
मोदी ने कहा, “वे भी क्या दिन थे जब नोएडा, ग्रेटर नोएडा की पहचान  सरकारी धन की लूट, टेंडर में होने वाले नए खेल, जमीन आवंटन में होने वाले घोटालों की वजह से बनी। पहले ऐसी ही खबरें आया करती थीं। आज यहां की पहचान विकास और परियोजनाओं, रोजगार के नए अवसरों से है। मेरा देश, उत्तर प्रदेश वाकई बदल रहा है। आगे बढ़ रहा है।”

“नोएडा आज मेक इन इंडिया के बड़े हब के तौर पर विकसित हो रहा है। भारत मोबाइल बनाने में नंबर-2 पर पहुंचा है, इसमें नोएडा की अहम भूमिका है। 2014 से पहले मोबाइल बनाने वाली 2 फैक्ट्रियां थी। आज सवा सौ फैक्ट्रियां देश में मोबाइल बना रही हैं। इसमें से बड़ी संख्या में फैक्ट्रियां नोएडा में हैं।”

जेवर में बन रहा देश का सबसे बड़ा एयरपोर्ट
मोदी के मुताबिक, “जेवर में देश का सबसे बड़ा हवाई अड्डा बनने जा रहा है। इससे जुड़ी तमाम प्रक्रियाओं को तेज गति से पूरा किया जा रहा है। इससे नोएडा की एयर कनेक्टीविटी दूसरे शहरों से जुड़ जाएगी और दिल्ली जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। जेवर एयरपोर्ट पश्चिमी यूपी के लिए एक स्वर्णिम अवसर लेकर आएगा।”

“अगले कुछ हफ्तों में उड़ान योजना के तहत अब बरेली से भी उड़ानें शुरू हो जाएंगी। इसके लिए टर्मिनल बिल्डिंग और अन्य कार्यों को पूरा कर लिया गया है। उड़ान योजना के तहत अब तक 120 रूट को शुरू किया जा चुका है। इसकी वजह से टियर-2 और टियर-3 शहर भी पहली बार एयर कनेक्टिविटी से जुड़े हैं। इससे इन शहरों की इकोनॉमी को भी बढ़ावा मिल रहा है।”

यूपी-बिहार को ज्यादा बिजली मिलेगी
मोदी ने कहा कि आज दो नए पावर प्लांट का भी उद्घाटन किया गया। खुर्जा में और बक्सर में। खुर्जा वाले पावर प्लांट पर 12 हजार करोड़ रुपए का खर्च आएगा और बक्सर वाले में 10 हजार करोड़ का। जब ये दोनों प्लांट तैयार हो जाएंगे तो यूपी और बिहार को अधिक बिजली मिल पाएगी। खुर्जा के प्लांट से दिल्ली, उत्तराखंड, हिमाचल और राजस्थान को बिजली मिलेगी। बक्सर के प्लांट से पूर्वी भारत में बिजली व्यवस्था सुधारने में मदद मिलेगी। इससे उद्योंगों को आसानी से बिजली मिल पाएगी। हमारी सरकार 21वीं सदी में देश की ऊर्जा जरूरतों को ध्यान में रखकर अनेक क्षेत्रों में काम कर रही है।

ऊर्जा क्षेत्र पर ध्यान नहीं दिया गया
मोदी ने कहा, “पिछली सरकारों ने इस पर कोई काम नहीं किया। ऊर्जा क्षेत्र को पूरी तरह नजरअंदाज किया गया। इसका उदाहरण कल मुझे कानपुर में दिखाई दिया। वहां पनकी पावर प्लांट का कल काम शुरू हुआ। पनकी प्रोजेक्ट में 50-50 साल पुरानी हो चुकी मशीनों से काम लिया जा रहा था। मशीनें हांफने लगी थीं। उनका भी कांग्रेस जैसा हाल था। जो बिजली वहां बन रही थी उसकी कीमत आ रही थी 10 रुपए प्रति यूनिट। इससे किसका भला हो रहा था, लेकिन चल रहा था। पहले की सरकारों के इसी रवैये ने देश के पावर सेक्टर को खस्ताहाल कर दिया था। देश के लोग वे दिन नहीं भूल सकते जब टीवी पर ब्रेकिंग न्यूज चला करती थी जब कहा जाता था कि कोयला दो दिन का ही बचा है। देश में ग्रिड फेल हो जाया करते थे। कई शहर अंधेरे में डूब जाया करते थे।”

“हमने चार अलग-अलग स्तर पर काम किया। प्रोडक्शन, ट्रांसमिशन और डिस्ट्रीब्यूशन। 2014 में सरकार बनने के बाद हमने सबसे पहले बिजली का प्रोडक्शन बढ़ाने पर जोर दिया। सौर ऊर्जा, पानी से बनने वाली ऊर्जा और न्यूक्लियर पावर सभी से ऊर्जा बनाने पर काम हुआ। जिस कोयले में करोड़ों का घोटाला हुआ था, उसी कोयले के प्रोडक्शन में हमने बढ़ोतरी की।”

 

 

loading...
शेयर करें