विदेशी मुद्रा भंडार नये रिकॉर्ड स्तर पर, बैंकों ने जारी किये आंकड़े

 

विदेशी मुद्रा भंडार
विदेशी मुद्रा भंडार

मुंबई: विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों के पांच अरब डॉलर से अधिक बढ़ने से 09 अक्टूबर को समाप्त सप्ताह में देश का विदेशी मुद्रा भंडार पहली बार 550 अरब डॉलर के पार पहुंच गया.

रिजर्व बैंक द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, 9 अक्टूबर को समाप्त सप्ताह में देश का विदेशी मुद्रा का भंडार 5.87 अरब डॉलर बढ़कर 551.51 अरब डॉलर पर पहुंच गया. यह लगातार दूसरा सप्ताह है जब इसमें वृद्धि हुई है. इससे पहले 2 अक्टूबर को समाप्त सप्ताह में यह 3.62 अरब डॉलर बढ़कर 545.64 अरब डॉलर पर रहा था.

केंद्रीय बैंक ने बताया कि 9 अक्टूबर को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार का सबसे बड़ा घटक विदेशी मुद्रा परिसंपत्ति 5.74 अरब डॉलर की वृद्धि के साथ 508.78 अबर डॉलर पर पहुँच गया. स्वर्ण भंडार भी 11.3 करोड़ डॉलर बढ़कर 36.60 अरब डॉलर हो गया.

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष पास आरक्षित निधि 1.3 करोड़ डॉलर बढ़कर 4.64 अरब डॉलर पर और विशेष आहरण अधिकार 40 लाख डॉलर की वृद्धि के साथ 1.48 अरब डॉलर पर रहा.

विदेशी मुद्रा भंडार के मामले में चीन, जापान, स्विटजरलैंड और रूस के बाद भारत पांचवें स्थान पर है. देश का विदेशी मुद्रा भंडार पहली बार 12 दिसंबर 2003 को 100 अरब डॉलर का हुआ था. सौ अरब डॉलर से 550 अरब डॉलर तक का सफर इस प्रकार रहा.

डेढ़ सौ अरब डॉलर – 31 मार्च 2006
दो सौ अरब डॉलर – 06 अप्रैल 2007
ढाई सौ अरब डॉलर – 05 अक्टूबर 2007
तीन सौ अरब डॉलर – 29 फरवरी 2008
साढ़े तीन सौ अरब डॉलर – 01 मई 2015
चार सौ अरब डॉलर – 08 सितंबर 2017
साढ़े चार सौ अरब डॉलर – 20 नवंबर 2019
पांच सौ अरब डॉलर – 05 जून 2020
साढ़े पांच सौ अरब डॉलर – 09 अक्टूबर 2020

यह भी पढ़े: एशिया-प्रशांत क्षेत्र में मिसाइलों की तैनाती की अमेरिकी योजना पर हमारी नजर :रूस

Related Articles